तय कार्यक्रम के मुताबिक शुक्रवार से होगी सिविल सेवा परीक्षा : UPSC

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने बुधवार को कहा कि सिविल सेवा (मुख्य) परीक्षा, 2021 अपने तय कार्यक्रम के अनुसार शुक्रवार से होगी.

तय कार्यक्रम के मुताबिक शुक्रवार से होगी सिविल सेवा परीक्षा : UPSC

आयोग ने यूपीएससी परीक्षा 7, 8, 9, 15 और 16 जनवरी, 2022 को आयोजित करने का निर्णय लिया है

नई दिल्‍ली:

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने बुधवार को कहा कि सिविल सेवा (मुख्य) परीक्षा, 2021 अपने तय कार्यक्रम के अनुसार शुक्रवार से होगी. कोविड-19 (Covid-19) के प्रसार पर काबू के लिए सरकारों द्वारा लगाए जा रहे प्रतिबंधों को ध्यान में रखते हुए आयोग ने राज्यों से यह सुनिश्चित करने का आग्रह किया है. ताकि उम्मीदवारों और परीक्षा अधिकारियों को उनकी आवाजाही में कोई असुविधा न हो, खासकर निषिद्ध क्षेत्र से आने वाले लोगों को. यूपीएससी ने कहा कि राज्यों से कहा गया है कि यदि आवश्यक हो तो उम्मीदवारों के ई-प्रवेश पत्रों और परीक्षा अधिकारियों के पहचान पत्रों का उपयोग आवाजाही पास के रूप में किया जा सकता है.

UPSC ने जारी किया इंजीनियरिंग सेवा मुख्य परीक्षा का डिटेल्ड एप्लिकेशन फॉर्म, इस लिंक पर जाकर भरें

आयोग ने एक बयान में कहा, 'कोविड-19 महामारी की वजह से उत्पन्न मौजूदा स्थिति की सावधानीपूर्वक समीक्षा करने के बाद, आयोग ने सिविल सेवा (मुख्य) परीक्षा, 2021 को कार्यक्रम के अनुसार यानी 7, 8, 9, 15 और 16 जनवरी, 2022 को आयोजित करने का निर्णय लिया है. 'भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS), भारतीय विदेश सेवा (IFS) और भारतीय पुलिस सेवा (IPS) के अधिकारियों समेत अन्य अधिकारियों के चयन के लिए सिविल सेवा परीक्षा हर साल तीन चरणों - प्रारंभिक, मुख्य और साक्षात्कार - में आयोजित की जाती है.

संघ लोक सेवा आयोग के साथ काम करने का सुनहरा मौका, कई पदों पर निकाली हैं वैकेंसी, तुरंत करें अप्लाई

आयोग ने कहा कि राज्यों से अनुरोध किया गया है कि वे परीक्षा शुरू होने से कम से कम एक दिन पहले - 6 जनवरी से 9 जनवरी तक और 14 जनवरी से 16 जनवरी तक - सार्वजनिक परिवहन को अधिकतम स्तर पर चालू रखें ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि उम्मीदवारों और परीक्षा अधिकारियों की आवाजाही सुचारू रूप से संपन्न हो सके. बयान में कहा गया है कि सभी सक्षम जिला प्राधिकारियों और परीक्षा केंद्र पर्यवेक्षकों को महामारी के इस दौर में परीक्षा आयोजित करने के लिए आयोग के दिशा-निर्देश मुहैया कराए गए हैं. दिशानिर्देश में परीक्षा अधिकारियों और उम्मीदवारों को पारदर्शी बोतलों में अपना सेनेटाइज़र ले जाने के लिए भी कहा गया है.

दिल्ली की सड़कों पर UPSC के परीक्षार्थी क्यों कर रहे हैं प्रदर्शन? बन सकते थे IAS-IPS

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)