साइना नेहवाल पर ‘भद्दा’ कमेंट, सिद्धार्थ का ट्विटर अकाउंट ब्लॉक किया जाए: NCW

राष्ट्रीय महिला आयोग ने महाराष्ट्र पुलिस से कहा है कि सिद्धार्थ के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जाए

नई दिल्ली:

राष्ट्रीय महिला आयोग ने सोमवार को ट्विटर से कहा कि बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल के खिलाफ ‘भद्दा और अनुचित' ट्वीट करने के लिए अभिनेता सिद्धार्थ के अकाउंट को ब्लॉक किया जाए. इसके साथ ही, उसने महाराष्ट्र पुलिस से कहा है कि सिद्धार्थ के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जाए. सिद्धार्थ ने साइना के खिलाफ यह टिप्पणी उनके उस ट्वीट को लेकर की, जो उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में ‘गंभीर चूक' के मुद्दे को लेकर किया था. सिद्धार्थ के ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया में कई लोगों ने नाराजगी जताई.

महिला आयोग का कहना है कि अभिनेता की यह टिप्पणी नारी विरोधी, महिला की लज्जा को भंग करने वाली, अपमानजक और महिलाओं की गरिमा को चोट पहुंचाने वाली है. उसने कहा कि अभिनेता द्वारा की गई ‘भद्दी और अनुचित‘ टिप्पणी का संज्ञान लिया गया है.

आयोग ने कहा, ‘‘महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने महाराष्ट्र के पुलिस महानिदेशक से कहा है कि वे इस मामले की तत्काल जांच कराएं और कानून की संबंधित धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की जाए. आयोग ने अभिनेता के खिलाफ त्वरित और सख्त कार्रएवाई के लिए कहा है.''

महिला आयोग ने कहा कि इस मामले को गंभीरता से लेते हुए रेखा शर्मा ने ‘ट्विटर इंडिया' के स्थानीय शिकायत अधिकारी को पत्र लिखकर कहा है कि सिद्धार्थ का ट्विटर अकाउंट तत्काल ब्लॉक किया जाए.

अपनी टिप्पणी पर विवाद खड़ा होने के बाद सिद्धार्थ ने कहा, ‘‘कुछ भी अपमानजनक कहने का इरादा नहीं था, न ही कहा गया और न ऐसा कुछ संकेत किया गया.''

बहरहाल, साइना ने कहा, ‘‘मुझे नहीं पता कि उनका क्या मतलब था....मैं एक अभिनेता के तौर पर उन्हें पसंद किया करती थी, लेकिन यह सही नहीं था. वह अपनी बात बेहतर शब्दों में रख सकते थे. यह टि्वटर है और लोग आपके शब्दों पर गौर करते हैं. अगर प्रधानमंत्री की सुरक्षा एक मुद्दा है तो मुझे पता नहीं कि देश में क्या सुरक्षित है.''

साइना के पिता हरवीर सिंह ने ‘पीटीआई-भाषा' से कहा, ‘‘साइना के खिलाफ इस तरह की टिप्पणी करना उचित नहीं है. साइना कभी भी किसी विवाद में नहीं रही है.'' उन्होंने कहा कि यह टिप्पणी ठीक नहीं है और इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता.

साइना के पति और बैडमिंटन खिलाड़ी पारुपल्ली कश्यप ने साइना का समर्थन किया है और सिद्धार्थ की टिप्पणी की निंदा की.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘यह हमारे लिए परेशान करने वाली बात है...आपनी राय जाहिर करिए लेकिन बेहतर शब्द का इस्तेमाल करिए. मुझे लगता है कि आपको लगा कि इस तरह से अपनी बात कहना ठीक रहेगा.''

उधर, शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने सिद्धार्थ की टिप्पणी के मामले में महिला आयोग द्वारा महाराष्ट्र पुलिस से मामला दर्ज करने के लिए कहे जाने पर सवाल करते हुए कहा कि उनकी जानकारी के हिसाब से साइना और सिद्धार्थ दोनों महाराष्ट्र में नहीं रहते.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


प्रियंका ने ट्वीट किया, ‘‘अगर मैं गलत नहीं हूं तो इनमें से कोई भी महाराष्ट्र में नहीं रहता. ट्विटर इंडिया का मुख्यालय भी महाराष्ट्र में नहीं है. क्या बात है महिला आयोग, आपने महाराष्ट्र पुलिस से कार्रवाई के लिए कहा है.''