बीजेपी-एमएनएस की दोस्ती? रिश्ते में आड़े आ रही इस बाधा को राज ठाकरे ने किया दूर

15 दिन में दोनों के बीच ये दूसरी बार मुलाकात हुई है. नासिक में हुई मुलाकात में राज ठाकरे ने सफाई देते हुए कहा था कि मैं उत्तर भारतीय  विरोधी नहीं हूं. ना ही उनके खिलाफ जह़र उगलता हूं. मेरे भाषणों का गलत अर्थ निकाला जाता है. मैं अपने भाषणों की सीडी आपको भेजूंगा. 

बीजेपी-एमएनएस की दोस्ती? रिश्ते में आड़े आ रही इस बाधा को राज ठाकरे ने किया दूर

बीजेपी-मनसे के बीच 15 दिन में हुई दूसरी मुलाकात

मुंबई:

शिवसेना (ShivSena) के अलग हो जाने के बाद से गाहे-बगाहे बीजेपी और मनसे (MNS) में नजदीकी बढ़ने खबरें आती रहती हैं, लेकिन उत्तर भारतीयों को लेकर एमएनएस की नीति एक बड़ी बाधा है. महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल आज राज ठाकरे से मुलाकात कर रहे हैं. दोनों के बीच राज ठाकरे के घर कृष्णकुंज पर  मुलाकात  चल रही है. 15 दिन में दोनों के बीच ये दूसरी बार मुलाकात हुई है. नासिक में हुई मुलाकात में राज ठाकरे ने सफाई देते हुए कहा था कि मैं उत्तर भारतीय  विरोधी नहीं हूं. ना ही उनके खिलाफ जह़र उगलता हूं. मेरे भाषणों का गलत अर्थ निकाला जाता है. मैं अपने भाषणों की सीडी आपको भेजूंगा. 

राज ठाकरे के भाषणों का वीडियो देखने के बाद चंद्रकांत पाटिल ने कहा है कि मुझे उनके भाषणों में कुछ भी आपत्तिजनक नहीं दिखा, लेकिन भाषण से जुड़ी कुछ बातों पर उनसे चर्चा करनी है, इसलिए राज ठाकरे के साथ आज चंद्रकांत पाटिल की मुलाकात अहम मानी जा रही है.


टीचर ने शिष्य रहे CM उद्धव ठाकरे, राज ठाकरे से की फरियाद, दोनों नेताओं ने ऐसे पहुंचाई मदद

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि मनसे पिछले साल जनवरी में अपना नया झंडा सामने लेकर आई थी. उस समय कार्यकर्ताओं के एक सम्मेलन में उनके भाषण से मनसे के कट्टर हिंदुत्व राजनीति की ओर उन्मुख होने का संकेत भी मिला था. इस दौरान मनसे प्रमुख ने ये भी कहा था कि मैं सरकार बनाने के लिए मेरी पार्टी का रंग नहीं बदलता. उनके इस बयान का जवाब उद्धव ठाकरे ने भी दिया था. उन्होंने कहा था कि हमने हिंदुत्व छोड़ा नहीं है. हमारा रंग भगवा है और मन में भी भगवा है.