नीतीश ने की RJD के MY समीकरण में घुसपैठ, पिछड़ों-अति पिछड़ों को 70, SC को 16, महिलाओं को दिए 22 टिकट

नीतीश कुमार ने एक मंत्री समेत कुल दस सीटिंग विधायकों का टिकट काट दिया है, जबकि 18 नए कार्यकर्ताओं को मौका दिया है.

नीतीश ने की RJD के MY समीकरण में घुसपैठ, पिछड़ों-अति पिछड़ों को 70, SC को 16, महिलाओं को दिए 22 टिकट

टिकट बंटवारे में नीतीश कुमार ने सामाजिक और जातीय समीकरण का विशेष ध्यान रखा है.(फाइल फोटो)

खास बातें

  • नीतीश ने टिकट बंटवारे में रखा जातीय समीकरणों का विशेष ध्यान
  • करीब 60 फीसदी से भी ज्यादा टिकट पिछड़े-अति पिछड़े वर्ग के लोगों को दिया
  • 22 महिलाओं को बी टिकट, इनमें 13 पहली बार बनीं हैं प्रत्याशी

बिहार विधान सभा चुनावों (Bihar Assembly Election) में पहले चरण का नामांकन खत्म होने से एक दिन पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (Janta Dal United) ने सभी 115 सीटों पर उम्मीदवारों के नामों का एलान कर दिया. टिकट बंटवारे में नीतीश ने पिछड़े-अति पिछड़े वर्ग पर खास ध्यान दिया है और उस वर्ग को सबसे ज्यादा 70 सीटें यानी करीब 60 फीसदी से ज्यादा टिकट दिए हैं. अतिपिछड़ा वर्ग (EBC) को 40 टिकट दिए गए हैं. इनके अलावा पिछड़ा वर्ग (BC) को 30, अनुसूचित जाति (SC) को 17, अनुसूचित जनजाति (ST) को एक,  मस्लिम को 9, सवर्णों को 16 टिकट दिए गए हैं.

नीतीश कुमार ने एक मंत्री समेत कुल दस सीटिंग विधायकों का टिकट काट दिया है, जबकि 18 नए कार्यकर्ताओं को मौका दिया है. महिलाओं को कुल टिकट बंटवारे में 20 फीसदी की हिस्सेदारी यानी कुल 22 सीटें दी गई हैं.  इनमें 13 महिला प्रत्याशी ऐसी हैं, जिन्हें पहली बार टिकट मिला है.

चुनाव आयोग ने बिहार चुनाव, उपचुनावों में स्टार प्रचारकों की संख्या घटायी

जिन सीटिंग विधायकों का टिकट काटा गया है उनमें मंत्री कपिलदेव कामत के अलावा बेनीपुर से विधायक सुनील चौधरी, वैशाली से राजकिशोर सिंह, डुमरांव से ददन पहलवान, राजगीर से रवि ज्योति, जनार्दन मांझी, सुबोध राय, गुलजार देवी, मनोरंजन सिंह और रमेश सिंह कुशवाहा का नाम शामिल है.

एक पूर्व डीजी JDU का टिकट पाने में रहे सफल, लेकिन लटक गए गुप्तेश्वर पांडे, जानें- क्यों हुआ ऐसा?

नीतीश कुमार ने राजद के माय (MY यानी मुस्लिम-यादव) समीकरण में भी घुसपैठ की कोशिश की है. इस कड़ी में करीब 14 यादवों को टिकट दिया गया है. इनके अलावा लालू यादव के समधी चंद्रिका राय समेत दस दल बदलुओं को भी टिकट दिया गया है, जो हाल के दिनों में राजद, कांग्रेस छोड़कर जेडीयू में शामिल हुए थे. नीतीश कुमार ने मुजऱफ्फरपुर बालिका आश्रय गृह कांड में पद से हटाई गईं पूर्व मंत्री मंजू वर्मा को भी टिकट दिया है.


बीजेपी और जेडीयू के बीच हुए सीट बंटवारे में जेडीयू को 122 सीटें मिली थीं जबकि 121 सीटें बीजेपी के खाते में गई थीं. जेडीयू ने अपने खाते से सात सीटें जीतनराम मांझी की हम पार्टी को दी है जबकि बीजेपी ने अपने खाते से 11 सीटें वीआईपी को दी हैं. इस तरह जेडीयू अब कुल 115 जबकि बीजेपी 110 सीटों पर चुनाव लड़ रही है.

वीडियो: बिहार चुनाव : सवालों के घेरे में JDU उम्मीदवारों की लिस्ट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com