बंगाल BJP का आरोप- TMC के गुंडों ने पार्टी कार्यकर्ता की मां को बेरहमी से पीटा

बीजेपी कार्यकर्ता गोपाल मजूमदार की मां शोभा मजूमदार का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें उन्होंने अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी है. बीजेपी ने आरोप लगाया है कि सत्तारूढ़ पार्टी टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने उनको पीटा है.

बंगाल BJP का आरोप- TMC के गुंडों ने पार्टी कार्यकर्ता की मां को बेरहमी से पीटा

24 परगना जिले के BJP कार्यकर्ता ने TMC कार्यकर्ताओं पर अपनी मां की पीटने का आरोप लगाया है.

नई दिल्ली/कोलकाता:

भारतीय जनता पार्टी ने आरोप लगाया है कि बंगाल में रविवार को उसके एक कार्यकर्ता और उसकी मां की 'TMC के गुंडों ने बेरहमी' से पिटाई की है. पीड़ित महिला का एक वीडियो भी सामने आया है. बीजेपी ने सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस पर तब आरोप लगाया है, जब 27 मार्च से राज्य में आठ चरणों में होने वाले चुनाव शुरू होने हैं. हालांकि, TMC ने इन आरोपों को खारिज किया है. 

न्यूज एजेंसी ANI ने एक वीडियो साझा किया है, जिसमें बीजेपी कार्यकर्ता गोपाल मजूमदार की मां शोभा मजूमदार कह रही हैं कि 'उन्होंने मुझे सिर और गले पर मारा. मेरे चेहरे पर घूंसे मारे. मुझे बहुत डर लग रहा है. उन्होंने मुझे धमकी दी कि मैं इस बारे में किसी को न बताऊं. मेरे पूरे शरीर में दर्द हो रहा है.'

BJP के ट्विटर हैंडल से भी यह वीडियो शेयर किया गया है. पार्टी ने पोस्ट के साथ लिखा है, '24 परगना के बीजेपी कार्यकर्ता गोपाल मजूमदार की मां को सुनिए, जिन्हें टीएमसी के गुंडों ने बेरहमी से पीटा. ममता दीदी, इस वृद्ध महिला के दर्द और आंसूओं का हिसाब आपको देना होगा.'

ANI के मुताबिक, 24 परगना जिला के निमता इलाके के बीजेपी कार्यकर्ता गोपाल मजूमदार ने आरोप लगाया था कि शनिवार को टीएमसी के कुछ कार्यकर्ता उनके घर में घुस आए थे और उनपर हमला किया था. जानकारी है कि पुलिस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है.

यह भी पढ़ें : '2 मई को मेरा पिछला ट्वीट निकाल लेना', चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ प्रशांत किशोर ने BJP पर साधा निशाना

बीजेपी के पोस्ट पर टीएमसी सांसद डेरेक ओ'ब्रायन ने जवाब देते हुए ट्वीट किया, 'तृणमूल एक सकारात्मत कैंपेन चला रही है. बीजेपी हताश हो रही है. उनके सामने ममता बनर्जी के गुड गर्वनेंस का कोई विकल्प नही है. तो वो कितनी दूर जाएंगे? झूठ गढ़ेंगे. धोखा देंगे. किसी को नहीं छोड़ेंगे यहां तक कि वृद्ध लोगों को भी नहीं. फेक न्यूज की फैक्ट्री का फिर से भांडा फूटा.'


बता दें कि बंगाल में 27 मार्च से चुनाव शुरू हो रहे हैं. यहां आठ चरणों में चुनाव होने हैं. परिणाम 2 मई को आने हैं. 

बंगाल में ISF की कितनी अहमियत? चुनाव में कांग्रेस-लेफ्ट के साथ

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com