Exclusive: 'ये ओपिनियन पोल नहीं बल्कि ओपियम पोल', इन चुनावों में बीजेपी पिटेगी - अखिलेश यादव

अखिलेश यादव ने कहा, हम मांग करते हैं कि ओपिनियन पोल पर बैन लगाया जाए. बीजेपी महंगाई पर बात नहीं करना चाहती. कड़वा तेल, घरेलू गैस, पेट्रोल-डीजल पर बात नहीं करना चाहती.

नई दिल्ली:

यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav ) ने ओपिनियन पोल (Opinion Poll) पर रोक को लेकर अपनी राय स्पष्ट की है. उन्होंने NDTV को दिए खास इंटरव्यू में सोमवार को कहा, चुनाव के पहले ये ओपिनियन पोल नहीं, बल्कि ओपियम (अफीम) पोल है. अखिलेश ने कहा कि जनता बीजेपी के खिलाफ खड़ी है. इन पार्टी के विधायकों को पीटा जा रहा है. गांवों से खदेड़ा जा रहा है और उप मुख्यमंत्री को भी उनके निर्वाचन क्षेत्र में विरोध का सामना करना पड़ा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैलियों के लिए सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग किया गया. ऐसे में इन ओपिनियन पोल को कैसे सच माना जा सकता है. हम मांग करते हैं कि इन पर बैन लगाया जाए. बीजेपी महंगाई पर बात नहीं करना चाहती. कड़वा तेल, घरेलू गैस, पेट्रोल-डीजल पर बात नहीं करना चाहती.

सपा ने 159 उम्मीदवारों की सूची जारी की, करहल से अखिलेश लड़ेंगे, आजम खां और अब्दुल्ला आजम को टिकट

अखिलेश ने कहा,ये सब लोग बीजेपी से महंगाई पर बेरोज़गारी पर सवाल नहीं पूछते हैं. ये दंगे की बात करते हैं, ये नहीं बता रहे हैं कि इनके विधायक कूटे जा रहे हैं. बीजेपी के लोग प्रचार नहीं कर पा रहे हैं. राजनीतिक रैलियों पर चुनाव आयोग की रोक के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा, बीजेपी ने virtual rally की तैयारी पहले से कर रखी थी. बीजेपी के सारे स्टूडियो तैयार थे बीजेपी के, क्या बीजेपी को पहले से पता था ? हालांकि उन्होंने स्पष्ट किया कि वो चुनाव आयोग पर सवाल नहीं उठा रहे हैं.

अपर्णा यादव के सपा छोड़ने पर बोले अखिलेश, BJP का काम ही है परिवार-समाज में झगड़ा कराना

बीजेपी द्वारा पाकिस्तान को लेकर दिए उनके बयान पर कहा, ये पाकिस्तान की बात कर रहे हैं , मेरे बयान को सुनिए. मैंने पाकिस्तान पर वही बोला जो पूर्व चीफ़ ऑफ़ स्टॉफ़ बिपिन रावत ने कहा था. जनरल बिपिन रावत जी ने कहा था कि चीन हमारा सबसे बड़ा दुश्मन है. क्या मैं बिपिन रावत जी को कोट नहीं कर सकता. बीजेपी वालों को जनरल रावत का बयान पढ़ना चाहिए. उनकी सरकार ने ही जनरल रावत को पहला सीडीएस बनाया था, भला उनकी बात क्यों नहीं कोई मानेगा.

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और डिप्टी सीएम द्वारा सपा पर दंगाइयों और अपराधियों को टिकट देने के आरोपों का भी उन्होंने जवाब दिया. अखिलेश ने कहा, मैं केशव मौर्य को हराऊंगा, ये बहुत ट्वीट करते हैं. मैं ख़ुद जाकर सिराथू में प्रचार करूंगा. साइकिल लेकर वहां जाऊंहगा. केशव मौर्य स्टूल वाले उप मुख्यमंत्री हैं. केशव मौर्य ने पिछड़ों का अपमान कराया है. उन्हें डर है कि सपा कोई मजबूत उम्मीदवार उनके खिलाफ न उतार दे.

पूर्व मुख्यमंत्री बोले, योगी जी के खिलाफ हमारे कई मज़बूत उम्मीदवार हैं. मैं जल्द डोर टू डोर कैंपेन करूंगा. मैंने बीजेपी वालों के प्रचार के सारे वीडियो बना रखे हैं कि कैसे भीड़ के साथ प्रचार कर रहे थे इनके नेता. बिना मॉस्क के नेता प्रचार कर रहे थे , योगी जी के साथ कितनी भीड़ थी और फिर अगर चुनाव प्रचार में हमे रोका तो हम चुनाव आयोग से पूंछेंगे कि आपने बीजेपी पर कार्यवाही क्यों नहीं की. पहले बीजेपी का घोषणापत्र आएगा फिर हम अपना घोषित करेंगे.

केशव प्रसाद मौर्य पर अखिलेश यादव ने कहा कि डिप्टी सीएम स्टूल वाले नेता हैं, उन्होंने पिछड़े वर्ग का अपमान कराया है. केशव मौर्य के उन पर लगातार हमलों का जवाब देते हुए अखिलेश यादव ने कहा, जरूरत पड़ी तो मैं खुद जाकर सिराथू प्रचार करूंगा और उन्हें हराने का काम करेंगे. यूपी चुनाव में सीटों का ऐलान न करने के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा, हम शुभ समय पर इसकी घोषणा करेंगे. बीजेपी को इसमें क्या दिक्कत है. करहल सीट से चुनाव लड़ने के सवाल पर अखिलेश ने कहा कि हम योगी जी से पहले चुनाव लड़ना चाहते हैं, क्योंकि हम जीत रहे हैं. लिहाजा हमने ये सीट चुनी, अन्यथा हम आजमगढ़ और अन्य सीटों पर भी चुनाव लड़ सकते हैं. 

चंद्रशेखर आजाद के साथ बात न बन पाने के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा, हमारे ऊपर दलित विरोधी का आरोप गलत है. समाजवादी और अंबेडकरवादी अलग हो ही नहीं सकते. हम उन्हें दो सीटें देकर समायोजित करना चाहते थे, लेकिन वो इसके लिए तैयार नहीं थे. मुलायम सिंह यादव के परिवार की छोटी बहू अपर्णा यादव के बीजेपी में जाने के सवाल पर पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा- हम भी ऐसा कर सकते थे, लेकिन हम परिवार में झगड़ा नहीं कराना चाहते. बीजेपी परिवार में झगड़ा कराने का काम करती है, समाज में झगड़ा कराने का काम करती है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गोरखपुर में योगी आदित्यनाथ के खिलाफ उम्मीदवार उतारने पर अखिलेश यादव ने कहा कि हम अच्छा बेहतर प्रत्याशी उतारेंगे. लोग पूछेंगे कि वहां सीवर पानी का क्या व्यवस्था है. गोरखपुर में जमीनों के बदले सबसे ज्यादा अधिग्रहण का पैसा लेने का काम इन लोगों ने किया है.