कांग्रेस को झटका, अभिनेत्री-राजनेता विजयाशांति बीजेपी में हुईं शामिल

अगले साल तेलंगाना में विधानसभा चुनाव से पहले विजयाशांति का फिर बीजेपी से जुड़ना 'भगवा पार्टी' के लिए बड़ी उपलब्धि माना जा रहा है. हैदराबाद के हाल ही में हुए निकाय चुनावों में बीजेपी ने आक्रामक प्रचार अभियान के जरिये अच्‍छा प्रदर्शन किया है.

कांग्रेस को झटका, अभिनेत्री-राजनेता विजयाशांति बीजेपी में हुईं शामिल

विजयाशांति ने सियासत की शुरुआत बीजेपी से ही की थी

खास बातें

  • बीजेपी से ही की थी अपनी राजनीति की शुरुआत
  • तेलंगाना राष्‍ट्र समिति से सांसद भी रही हैं
  • पिछले सप्‍ताह कांग्रेस से इस्‍तीफा दे दिया था
नई दिल्ली:

दक्षिण भारतीय फिल्मों की अभिनेत्री विजयाशांति (Vijayashanti)आधिकारिक रूप से बीजेपी (BJP) में शामिल हो गई हैं. पार्टी मुख्यालय पर उन्‍हें सदस्यता दी गई. शाम को विजयाशांति, बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा से भेंट करेंगी. उन्‍होंने पिछले सप्‍ताह कांग्रेस से इस्‍तीफा दिया था. विजयाशांति कई  पार्टियों में रही हैं, उन्‍होंने शुरुआत बीजेपी से की, बाद में अपनी पार्टी बनाई जिसका विलय तेलंगाना राष्‍ट्र समिति (TRS) में हो गया. TRS से वे सांसद बनीं, बाद में कांग्रेस पार्टी से जुड़ीं और बाद में वापस बीजेपी में आ गई हैं.

राहुल गांधी की मौजूदगी में कांग्रेस नेता का विवादित बयान, कहा- आतंकी जैसे दिखते हैं पीएम मोदी


अगले साल तेलंगाना में विधानसभा चुनाव से पहले 54 वर्षीय विजयाशांति का फिर बीजेपी से जुड़ना 'भगवा पार्टी' के लिए बड़ी उपलब्धि माना जा रहा है. हैदराबाद के हाल ही में हुए निकाय चुनावों में बीजेपी ने आक्रामक प्रचार अभियान के जरिये अच्‍छा प्रदर्शन किया है. पार्टी ने इन चुनावों में 150 में से 48 सीटों पर कब्‍जा किया है, यह संख्‍या पहले नंबर पर रही सत्‍तारूढ़ टीआरएस से केवल सात कम है. दूसरी ओर, कांग्रेस पार्टी इन चुनावों में केवल दो सीटों पर जीत हासिल कर पाई है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


तमिलनाडु की खुशबू सुंदर के बाद दक्षिण भारत में बीजेपी से जुड़ी विजयाशांति दूसरी हाईप्रोफाइल कांग्रेस लीडर हैं. जानकारी के अनुसार, ग्रेटर हैदराबाद म्‍युनिसिपल कार्पोरेशन (GHMC) चुनाव के नतीजे आने के बाद विजयाशांति ने शुक्रवार को इस्‍तीफा दे दिया था. विजयाशांति ने पिछले साल लोकसभा चुनावों के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी को तानाशाह बताया था और उनकी आतंकी से तुलना की थी. नजदीकी सूत्रों के अनुसार, कांग्रेस से विजयाशांति का मोहभंग हो गया था. वे पिछले कुछ समय से कांग्रेस के कार्यक्रमों और गतिविधियों में सक्रिय नहीं थीं.