पंजाब के नए जिले 'मलेरकोटला' को लेकर अमरिंदर सिंह और योगी आदित्यनाथ में छिड़ी जुबानी जंग

यूपी के मुख्यमंत्री ने पंजाब के मुस्लिम बहुल इलाके मलेरकोटला को नया जिला बनाने को लेकर अमरिंदर सरकार पर हमला बोला है. योगी आदित्यनाथ ने इसे कांग्रेस की विभाजनकारी नीति का आईना बताया है.

पंजाब के नए जिले 'मलेरकोटला' को लेकर अमरिंदर सिंह और योगी आदित्यनाथ में छिड़ी जुबानी जंग

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने यूपी के सीएम को दिया जवाब Yogi Adityanath

चंडीगढ़:

पंजाब के मुस्लिम बहुल इलाके मलेरकोटला को नया जिला बनाने को लेकर सियासत तेज हो गई है. यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP CM Yogi Adityanath) ने इसे पंजाब की कांग्रेस सरकार की विभाजनकारी नीति बताया तो पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह (Punjab Chief Minister Captain Amarinder Singh) ने जवाब देने में देर नहीं लगाई. अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर कहा, "योगी आदित्यनाथ का बयान, बीजेपी की विभाजनकारी नीतियों की कवायद के तौर पर शांतिपूर्ण पंजाब में सांप्रदायिक घृणा पैदा करने का प्रयास है."अमरिंदर ने ईद के मौके पर शुक्रवार को मलेरकोटला (Malerkotla district) को पंजाब का 23वां जिला घोषित किया था. इसे संगरूर जिले से अलग कर बनाया गया है.

यूपी के मुख्यमंत्री ने पंजाब के मुस्लिम बहुल इलाके मलेरकोटला को नया जिला बनाने को लेकर अमरिंदर सरकार पर हमला बोला है. योगी आदित्यनाथ ने इसे कांग्रेस की विभाजनकारी नीति का आईना बताया है. योगी आदित्यनाथ ने हिन्दी में ट्वीट कर पंजाब सरकार पर निशाना साधा.यह जिला चंडीगढ़ से 131 किलोमीटर दूर है. इसे संगरूर जिले से अलग कर बनाया गया है. मलेरकोटला (Malerkotla) पंजाब का 23वां जिला है. पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh ) ने शुक्रवार को ईद के मौके पर नया जिला बनाने और यहां कई विकास परियोजनाओं का ऐलान किया था. इसको लेकर योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को ट्वीट कर प्रतिक्रिया दी.

ईद के मौके पर नए मलेरकोटला जिले का ऐलान करते हुए अमरिंदर सिंह ने देश की धर्मनिरपेक्ष छवि का जिक्र किया था. उन्होंने कहा था कि तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल समेत कई राज्यों के विधानसभा चुनाव में सांप्रदायिक शक्तियों को बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा है.  अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर कहा था, मुझे ईद के मौके पर यह बताते हुए खुशी हो रही है कि मेरी सरकार ने मलेरकोटला को नया जिला बनाने का फैसला किया है. पंजाब का यह 23वा् जिला काफी ऐतिहासिक मायने रखता है. यहां जल्द ही जिला प्रशासन का कार्यालय काम करने लगेगा. 

अमरिंदर ने एक कार्यक्रम में कहा, यह स्थानीय लोगों की लंबे समय से मांग थी. इससे प्रशासनिक कामकाज को लेकर हो रहीं उनकी अड़चनें दूर होंगी. उनकी समस्याएं तेजी से हल की जा सकेंगी. उन्होंने कहा, दुनिया भर में सिख समुदाय मालेरकोटला के पूर्व नवाब शेर मोहम्मद खान का सम्मान करता है, जिन्होंने मुगलों के अत्याचारों और गुरु गोबिंद सिंह के दो बेटों को जिंदा ईंटों में चुनवा देने के खिलाफ आवाज उठाई थी.


मलेरकोटला, अहमदगढ़ के साथ-साथ अमरगढ़ की उप तहसीलों को भी नए जिले में लाया जाना है. फिर मालेरकटला के क्षेत्राधिकार में गांवों को लाने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी. यह जनगणना की प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही हो पाएगा. पंजाब के सीएम ने संगरूर के उपायुक्त को नए जिले के प्रशासनिक कार्यालय के लिए नई इमारत की तलाश जल्द से जल्द पूरी करने को कहा है. जल्द ही नए जिले के उपायुक्त के नाम का भी ऐलान होगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अमरिंदर सिंह ने कहा कि नवाब शेर मोहम्मद खान के नाम पर सरकारी मेडिकल कॉलेज की मालेरकोटला में स्थापना की जाएगी. इसके लिए 500 करोड़ रुपये की व्यवस्था की जाएगी. पंजाब सरकार ने मालेरकोटला की रायकोट रोड पर 25 एकड़ जमीन पहले ही मेडिकल एजुकेशन की पढ़ाई कर रहे छात्रों के लिए आवंटित कर दी है. इसके लिए 50 करोड़ रुपये जारी किए जा चुके हैं.