'300 यूनिट बिजली देंगे मुफ्त' : उत्तराखंड में अरविंद केजरीवाल ने किया चुनावी वादा

केजरीवाल ने कहा, उत्तराखंड की जनता के विकास के बारे में कौन सोचेगा? क्या इन दोनों पार्टियों में से किसी को उत्तराखंड की जनता, उत्तराखंड के विकास, उत्तराखंड के लोगों के बारे में चिंता है?" केजरीवाल ने कहा कि दोनों पार्टियां केवल कुर्सी की लड़ाई लड़ रही हैं.

'300 यूनिट बिजली देंगे मुफ्त' : उत्तराखंड में अरविंद केजरीवाल ने किया चुनावी वादा

अरविंद केजरीवाल ने कहा, उत्तराखंड की जनता के विकास के बारे में कौन सोचेगा?

नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने उत्तराखंड चुनावों (Uttarakhand Election 2022) के मद्देनजर ऐलान किया है कि अगर  उत्तराखंड में 2022 में आप की सरकार बनेगी तो हर परिवार को 300 यूनिट तक बिजली मुफ़्त दी जाएगी. केजरीवाल ने कहा, "किसानों को मुफ्त बिजली दी जाएगी और पुराने बिल माफ़ किये जायेंगे." उन्होंने कहा, "नए सिरे से शुरुआत होगी. राज्य में कोई पावर कट नहीं लगेगा, जैसा दिल्ली में किया गया है."

अरविंद केजरीवाल ने आज (रविवार, 11 जुलाई) देहरादून में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि जिस तरह से चक्की के दो पाटों के बीच में गेहूं के दाने पिसते हैं, उसी तरह से उत्तराखंड की जनता दो पार्टियों के बीच में पिस रही है. उन्होंने कहा, "सत्ताधारी पार्टी के पास मुख्यमंत्री ही नहीं है. किसी एक को बनाते हैं फिर कुछ दिन बाद पता चलता है कि यह तो निकम्मा है, फिर उसको बदल देते हैं."

केजरीवाल ने कहा, उत्तराखंड की जनता के विकास के बारे में कौन सोचेगा? क्या इन दोनों पार्टियों में से किसी को उत्तराखंड की जनता, उत्तराखंड के विकास, उत्तराखंड के लोगों के बारे में चिंता है?" केजरीवाल ने कहा कि दोनों पार्टियां केवल कुर्सी की लड़ाई लड़ रही हैं.

उन्होंने कहा, "आज इतनी महंगाई हो गई है कि आम आदमी को अपना घर चलाना मुश्किल हो रहा है. किसी भी परिवार में चले जाइए, सबसे ज्यादा दुखी महिलाएं हैं क्योंकि आदमी कमाकर अपने घर में मां, बहन, पत्नी को देता है और फिर पूरे महीने का खर्चा तो महिलाओं को चलाना पड़ता है."

यूपी और गुजरात के अखबारों में दिल्ली सरकार का फुल पेज विज्ञापन, 2022 फतह की तैयारी?

आप संयोजक ने कहा कि देश में महंगाई बढ़ती जा रही है और खर्चे बढ़ते जा रहे हैं लेकिन आमदनी नहीं बढ़ रही. उन्होंने कहा कि उत्तराखंड जो अपनी बिजली खुद बनाता है और दूसरे राज्यों को बिजली बेचता है तो फिर उत्तराखंड वासियों को बिजली इतनी महंगी क्यों मिलती है?

केजरीवाल ने पूछा, क्या किसी सरकार या पार्टी ने उत्तराखंड के लोगों को मुफ्त बिजली या सस्ती बिजली देने के बारे में सोचा? उन्होंने कहा, "जब टिहरी बांध बनाया गया था तो जिन लोगों की जमीन ली गई उनको वादा किया गया था कि आप को बिजली मुफ्त मिलेगी? लेकिन नहीं दी गई क्यों?"

केजरीवाल ने कहा, "4-5 दिन पहले मैंने टीवी पर देखा कि उत्तराखंड के बिजली मंत्री ने ऐलान किया कि हम 100 यूनिट बिजली मुफ्त देंगे और 100 से 200 यूनिट तक बिजली आधे दाम पर देंगे लेकिन चुनाव से 6 महीने पहले यह वादा कर रहे हैं. यह अपने वादे पर टिकेंगे या नहीं?"

उन्होंने कहा, "इनके एक नेता ने 15 लाख के वादे पर कहा था कि यह तो जुमला होता है. ऐसे में मेरी शंका का निवारण 24 घंटे में हो गया, जब यहां के मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं है. मुख्यमंत्री ने खुद ही कह दिया कि यह चुनावी जुमला था, हम बिजली फ्री नहीं कर पाएंगे."

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने की प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात

केजरीवाल ने कहा, "दिल्ली में उत्तराखंड के बहुत से लोग रहते हैं. मुझे तो लगता है कि उत्तराखंड के हर एक परिवार से दिल्ली का कुछ ना कुछ रिश्ता जरूर है. जो काम 70 साल में मिलकर सारी पार्टियां देश के किसी कोने में कोई नहीं कर पाई, वह काम आम आदमी पार्टी दिल्ली में कर रही है."


केजरीवाल ने कहा, "उत्तराखंड के लोगों को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि जितने अच्छे काम दिल्ली में की है वह तो हम करेंगे ही, स्कूल अच्छा करेंगे, अस्पताल अच्छे करेंगे, कानून व्यवस्था अच्छी करेंगे और बाकी सब व्यवस्था भी करेंगे."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा, आज बिजली के क्षेत्र में चार बातों की गारंटी दे कर जा रहा हूं. मैं जो कहता हूं, वह चुनावी जुमला नहीं होता .केजरीवाल जो कहता है वह करता है. सरकार बनते ही पहली कलम से बिजली मुफ्त की जाएगी और पुराने बिल माफ किए जाएंगे. इसके अलावा 5 साल में कोई टैक्स नहीं बढ़ाएंगे."