150 करोड़ कोविड वैक्सीन डोज का रिकॉर्ड एक साल से पहले पूरा, ढाई महीने में लगाईं 50 करोड़ खुराक

देश में कोरोना टीके की खुराक देने का 100 करोड़ का आंकड़ा 21 अक्टूबर को हासिल किया गया था इसके बाद देश के कई हिस्से में जश्न मनाया गया

150 करोड़ कोविड वैक्सीन डोज का रिकॉर्ड एक साल से पहले पूरा, ढाई महीने में लगाईं 50 करोड़ खुराक

150 Crore Vaccination

नई दिल्ली:

भारत ने कोविड वैक्सीनेशन (Covid Vaccination) की दिशा में एक और रिकॉर्ड उपलब्धि शुक्रवार 7 जनवरी को हासिल कर ली. भारत ने एक साल से भी कम समय में 150 करोड़ वैक्सीन डोज लगाने का कीर्तिमान कायम किया है. इनमें से आखिरी 50 करोड़ वैक्सीनेशन तो महज 77 दिनों यानी ढाई महीने में किया गया है. देश में कोविड वैक्सीनेशन का कार्यक्रम पिछले साल 16 जनवरी 2020 से शुरू किया गया था. भारत ने 100 करोड़ वैक्सीन खुराक देने का लक्ष्य 21 अक्टूबर को हासिल किया था. यानी सौ करोड़ का लक्ष्य हासिल करने में भारत को 278 दिन यानी नौ महीने पांच दिन लगे. लेकिन बाकी 50 करोड़ का लक्ष्य महज 77 दिनों में हासिल कर लिया गया.

कोविड-19 के खिलाफ वैक्सीनेशन अभियान में भारत को बड़ी उपलब्धि मिली है. शुक्रवार को देश में लगाए गए टीकों की कुल संख्या 150 करोड़ से अधिक हो गई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा कि यह ऐतिहासिक उपलब्धि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में स्वास्थ्यकर्मियों की  कड़ी मेहनत के कारण हासिल की जा सकी है. मांडविया ने कहा कि जब हर कोई मिलकर प्रयास करता है तो किसी भी लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है.

कोरोना वैक्सीनेशन का आंकड़ा 100 करोड़ के पार, ये हैं वो शख़्स जिन्हें लगा सौ करोड़वां टीका

देश में कोरोना टीके की खुराक देने का 100 करोड़ का आंकड़ा 21 अक्टूबर को हासिल किया गया था इसके बाद देश के कई हिस्से में जश्न मनाया गया.स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, 91 फीसदी से अधिक वयस्क आबादी ने कम से कम एक खुराक प्राप्त कर ली है जबकि 66 फीसदी से अधिक आबादी का पूरी तरह टीकाकरण हो गया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पात्र किशोरों के लिए तीन जनवरी को टीकाकरण की शुरुआत होने के बाद से 22 फीसदी से अधिक पात्र किशोरों को टीके की पहली खुराक लग चुकी है.देशव्यापी वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत पिछले वर्ष 16 जनवरी से हुई थी जिसमें पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मियों का टीकाकरण किया गया था.