वैक्सीन की 100 करोड़ डोज : सबसे बड़ा खादी का तिरंगा आज लाल किले पर फहराया जाएगा

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया देश में 100 करोड़ कोरोना वायरस रोधी वैक्सीन दिए जाने के अवसर पर लाल किले से गायक कैलाश खेर का गीत और फिल्म जारी करेंगे

वैक्सीन की 100 करोड़ डोज : सबसे बड़ा खादी का तिरंगा आज लाल किले पर फहराया जाएगा

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

कोविड-19 से बचाव के लिए जारी टीकाकरण के तहत दी गई डोजों की संख्या 100 करोड़ पूरी होने पर देश में सबसे बड़ा खादी का तिरंगा गुरुवार को लाल किले में फहराया जाएगा. अधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि इस तिरंगे की लंबाई 225 फुट और चौड़ाई 150 फुट है और इसका वजन लगभग 1,400 किलोग्राम है. उन्होंने कहा कि यही तिरंगा दो अक्टूबर को गांधी जयंती पर लेह में फहराया गया था.

कोविड-19 से बचाव के लिए देश में जारी टीकाकरण के तहत दी गई डोजों की संख्या 100 करोड़ के करीब पहुंच गई है. इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने बुधवार को टीकाकरण के लिए पात्र लोगों से बिना देरी टीका लगवाने और भारत की ऐतहासिक टीकाकरण यात्रा में योगदान देने की अपील की.
भारत में टीकाकरण के तहत 100 करोड़ डोज दिए जाने का जश्न मनाने के लिए कई कार्यक्रमों की योजना बनाई गई है. देश में 100 करोड़ खुराक दिए जाने के अवसर पर मांडविया लाल किले से गायक कैलाश खेर का गीत और ऑडियो-विजुअल फिल्म जारी करेंगे.

मांडविया ने ट्वीट किया, ‘‘देश वैक्सीन शतक बनाने के करीब है. इस स्वर्णिम अवसर के सहभागी बनने के लिए देशवासियों से मेरी अपील है कि जिनका टीकाकरण बाकी है वो तत्काल टीका लगवाकर, भारत की इस ऐतिहासिक स्वर्णिम टीकाकरण यात्रा में अपना योगदान दें.''

स्पाइसजेट 100 करोड़ खुराक की उपलब्धि हासिल होने पर बृहस्पतिवार को दिल्ली हवाई अड्डे पर विशेष वर्दी जारी करेगी. इस मौके पर स्वास्थ्य मंत्री, नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और स्पाइसजेट के मुख्य प्रबंध निदेशक अजय सिंह मौजूद रहेंगे.

झंडे के बारे में बात करते हुए, एक सूत्र ने कहा, ‘‘1,400 किलोग्राम का खादी का तिरंगा इस मौके पर लालकिले में प्रदर्शित किया जाएगा.'' सूत्र ने कहा कि ये भारत में निर्मित सूती खादी का हाथ से बुना हुआ अब तक का सबसे बड़ा झंडा है और इसकी लंबाई 225 फुट और चौड़ाई 150 फुट है.

मांडविया ने इससे पहले कहा था कि जब भारत टीके की 100 करोड़ खुराक लगाने की उपलब्धि प्राप्त करेगा तक इसकी घोषणा विमानों, पोतों, मेट्रो और रेलवे स्टेशनों पर की जाएगी.


यह उपलब्धि प्राप्त करने की खुशी शहर में केंद्र सरकार के अस्पतालों में भी मनाई जाएगी. बुधवार रात दस बजकर 50 मिनट तक कोविन पोर्टल से प्राप्त जानकारी के मुताबिक देश में टीके की 99.7 करोड़ डोज लगाई जा चुकी हैं. लगभग 75 प्रतिशत वयस्कों को टीके की कम से कम एक डोज लग चुकी है जबकि 31 प्रतिशत आबादी को दोनों डोज लग चुकी हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मांडविया ने कहा, ‘‘टीके की 100 करोड़ खुराक लगाने के बाद हम मिशन के तहत सुनिश्चित करेंगे कि जिन्हें पहली डोज लग चुकी हैं उन्हें दूसरी डोज भी लगे ताकि कोविड-19 से उनकी सुरक्षा सुनिश्चित हो सके.'' केंद्र ने कहा कि जिन गांवों में शत प्रतिशत टीकाकरण हो चुका हैं उन्हें 100 करोड़ खुराक लगाने की उपलब्धि मनाने के लिए इस अभियान में अहम स्वास्थ्य कर्मियों की प्रशंसा में पोस्टर बैनर लगाने चाहिए.