Navratri 2018: उपवास से पहले जानें नियम, व्रत में कॉफी पी सकते हैं या नहीं...

छाछ और फलों के रस का सेवन भी किया जाता है, मगर पैक्ड जूस और अन्य गैस मिश्रित पेय पदार्थो का सेवन नहीं किया जाता है...

Navratri 2018: उपवास से पहले जानें नियम, व्रत में कॉफी पी सकते हैं या नहीं...

Navratri 2018: जानिए नवरात्रि में व्रत के दौरान क्या खा सकते हैं और क्या नहीं...

खास बातें

  • उपवास का मतलब है अन्न ग्रहण न करना.
  • व्रत में चाय और कॉफी जैसे पेय पदार्थो का सेवन किया जा सकता है
  • व्रत में छाछ और फलों के रस का सेवन भी किया जाता है

Navratri 2018: नवरात्रि (Navratri 2018) का आज पहला दिन है. इस दिन दिन मां दुर्गा (Maa Durga) के प्रथम रूप शैलपुत्री (Shailputri) की पूजा की जाती है. माना जाता है कि शैलपुत्री पर्वतराज हिमालय की बेटी हैं. लोगों की ऐसी भावना और मानना है कि मां शैलपुत्री की पूजा से मूलाधार चक्र जाग्रत हो जाता है. कहते हैं कि जो भी भक्‍त श्रद्धा भाव से मां की पूजा करता है उसे सुख और सिद्धि की प्राप्‍ति होती है. इसी दिन से नवरात्र के व्रत की शुरुआत होती है. शरद नवरात्रि 2018 में अगर आप भी नवरात्रि के रंग में रंग रहे हैं और व्रत कर रहे हैं तो यह जरूरी है कि इससे पहले आप नवरात्रि पूजा और व्रत से जुड़े नियमों के प्रति सजग हों. आपको यह पता हो कि इस दौरान क्या खाना है और क्या नहीं. तो चलिए आज नवरात्रि के पहले दिन इसी पर जानकारी लेते हैं. 

वैसे तो त्योहार का सीजन अगस्त से ही शुरू हो चुका है. हरियाली तीज के (Hariyali Teej 2018) ने त्योहारों के बीज बो दिए हैं. अब स्वतंत्रता दिवस (Independence Day 2018), ईद (Idul Juha- Bakrid), रक्षाबंधन, जन्माष्टमी (Janmashtami 2018), गणेश चतुर्थी (Ganesh Chaturthi 2018), मुहर्रम (Muharram 2018) के बाद अब दशहरा (Dusshera 2018), करवा चौथ (Karva Chouth 2018), दीवाली (Diwali 2018) भाई दूज (Bhai Duj 2018) आने वाले हैं. इनमें से ज्यादातर त्योहारों पर घर की महिलाएं उपवास रखती हैं. उपवास का मतलब है अन्न ग्रहण न करना. कुछ लोग उपवास में निर्जल रहते हैं तो कुछ महज अनाज न खाने का व्रत करते हैं. ऐसे में कई तरह के सवाल उठते हैं कि क्या खाया जा सकता है और क्या नहीं... 

इन्हीं में से एक सवाल है कि क्या व्रत या उपवास के दौरान कॉफी पी जा सकती है. व्रत के दौरान अनाज, नमक, मांसहारी भोजन, शराब, प्याज, लहसुन के अलावा कई अन्य चीजों का सेवन नहीं किया जाता. लेकिन यहां सवाल है कि क्या कॉफी पी जा सकती है या नहीं... 

 

coffee 650

कुछ लोग दोनों ही चीजों के लिए मना करते हैं.

कुछ लोगों का मानना है कि कॉफी पी जा सकती है, वहीं कुछ का तर्क होता है कि नहीं पी जा सकती. कुछ लोग मानते हैं कि व्रत के दौरान चाय तो पी जा सकती है लेकिन कॉफी वर्जित है (Can We Drink Coffee During Fast) . तो कुछ लोग दोनों ही चीजों के लिए मना करते हैं. प्रसिद्ध फूड राइटर अनूठी विशाल का कहना है कि उपवास के नियमों को लेकर कहीं भी ऐसा कुछ नहीं लिखा है. हर इंसान की अपनी एक व्यक्तिगत पसंद होती है. कई सालों पहले, लोगों ने इस तरह के नियम बनाएं. नवरात्रि वह समय है जिसमें मांसहारी भोजन और अनाज का सेवन न करके व्यक्ति अपने शरीर को शुद्ध करता है. तो इस दौरान चाय और कॉफी जैसे पेय पदार्थो का सेवन किया जा सकता है.

दिल्ली की रहने वाली शालिनी नंदवानी का कहना है कि वह पिछले 20 सालों से नवरात्रि के व्रत रख रही है और उनके घर में नवरात्रि उपवास के दौरान चाय और कॉफी दोनों पीने की अनुमति है. इसी के साथ छाछ और फलों के रस का सेवन भी किया जाता है, मगर पैक्ड जूस और अन्य गैस मिश्रित पेय पदार्थो का सेवन नहीं किया जाता है.


क्या उपवास में कॉफी पी जा सकती है ( Can We Drink Coffee During Fast )- 
एक गृहिणी, मधु भसीन का कहना है कि वह कई सालों से नवरात्रि के व्रत रखती आ रही हैं और इस दौरान वे अक्सर चाय और कॉफी दोनों ही चीजों का सेवन कर लेती हैं. 

गृहिणी सरबजीत सिंह का कहना है कि शायद कॉफी में कैफीन की मात्रा ज्यादा होती है, मगर पता नहीं व्रतों के दौरान कॉफी को क्यों छोड़ दिया जाता है. बहुत टाइम पहले कॉफी भारत में आज जितनी पसंद नहीं की जाती थी. और हां, आज भी यह चाय के मुकाबले कम ही पसंद की जाती है. मुझे नहीं लगता कि व्रत के दौरान कॉफी पीने को लेकर किसी तरह के नियम हैं या इसे पीने की मनाही है. हर इंसान की अपनी पसंद होती है. यहां अहम जानकारी यह है कि उपवास के दौरान मीट, अंडा, शराब, प्याज, लहसुन आदि जैसी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए.

 

अब यह आपको तय करना है कि उपवास के दौरान आप कॉफी पीना चाहते हैं या नहीं. बाकि इसके सही गलत होने पर संदेह छोड़ कर अपनी सुविधा पर ध्यान दें.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

       

और खबरों के लिए क्लिक करें.

अन्य खबरें