विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Aug 26, 2011

रिव्यू : स्टैंडबाय को 2 स्टार

Read Time: 2 mins
Mumbai: 'स्टैंडबाय' एक स्पोर्टस फिल्म है। कहानी फुटबॉल खिलाड़ी राहुल की है जिसे उसका पिता इंटरनेशनल फुटबॉल प्लेयर बनाना चाहता है लेकिन गरीब राहुल और उसकी टीम में खेलने वाले अमीर खिलाड़ी शेखर की दोस्ती में तब दरार आ जाती है जब टेलेंटेड राहुल नेशनल टीम में सिलेक्ट हो जाता है और शेखर को स्टैंडबाय प्लेयर बनकर संतोष करना पड़ता है। शेखर का अमीर पिता अपने बेटे को टीम में जगह दिलाने के लिए हर तरीका अपनाता है रिश्वत लालच डर और राहुल के पिता के खिलाफ फर्जी केस भी। फिल्म फुटबॉल की दुगर्ति के साथ एक संदेश भी देती है कि खेल को खेलो….ना कि इसके साथ खेलो। 'स्टेंडबाय' बड़ी एवरेज फिल्म है। इस स्पोर्ट्स फिल्म को देखते वक्त कहीं भी जोश नहीं उमड़ता। सेकेंड हाफ में कुछ समय बाद फिल्म ज़ोर पकड़ती है लेकिन हैरानी की बात ये है कि एक ईमानदार मेहनती खिलाड़ी आखिरकार अपना हक हासिल करता है बुरे खिलाड़ी को चोट पहुंचाकर। फिर ये खेल कहां रह गया राजनीति का जवाब हिंसा से। ये भी तो खेल से खिलवाड़ ही है। 'स्टैंडबाय' के लिए मेरी रेीटग है 2 स्टार।

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Hindustani 2 Hindi Trailer: 28 साल बाद आ रहा है सीक्वल, 69 के सुपरस्टार का एक्शन देख पलक झपकना जाएंगे भूल
रिव्यू : स्टैंडबाय को 2 स्टार
जीनत अमान का पति मजहर खान के साथ देखा है ये विज्ञापन, फैंस तो दे रहे हैं ना देखने की सलाह
Next Article
जीनत अमान का पति मजहर खान के साथ देखा है ये विज्ञापन, फैंस तो दे रहे हैं ना देखने की सलाह
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;