विज्ञापन
Story ProgressBack

कब है वर्ष का दूसरा सूर्य ग्रहण, जानिए यह ग्रहण कहां कहां आएगा नजर

Second Solar eclipse of this year : इस वर्ष का दूसरा सूर्य ग्रहण अक्टूबर में लगने वाला है. इस वर्ष का प्रहला सूर्य ग्रहण भारत में नजर नहीं आया था.

Read Time: 3 mins
कब है वर्ष का दूसरा सूर्य ग्रहण, जानिए यह ग्रहण कहां कहां आएगा नजर
इस वर्ष का दूसरा सूर्य ग्रहण अश्विन माह के अमावस्या की तिथि यानी 2 अक्टूबर को लगेगा.

Solar Eclipse 2024: सनातन धर्म में सूर्य और चंद्र ग्रहण जैसी खगोलीय घटनाओं का बहुत धार्मिक महत्व है. वर्ष 2024 का पहला सूर्य ग्रहण (Solar eclipse) 8 अप्रैल को लग चुका है और दूसरा सूर्य ग्रहण अक्टूबर को लगने वाला है. वर्ष का दूसरा सूर्य ग्रहण (Second Solar eclipse of this year) अश्विन माह के अमावस्या की तिथि यानी 2 अक्टूबर को लगेगा. यह सूर्य ग्रहण 2 अक्टूबर को रात के समय 9 बजकर 13 मिनट से लेकर 3 बजकर 17 मिनट यानी कुल 6 घंटे 4 मिनट तक रहेगा और इसमें रिंग का फायर का निर्माण भी होगा. आइए जानते हैं वर्ष का दूसरा सूर्य ग्रहण भारत में नजर आएगा या नहीं और इसका सूतक काल (Sutak kaal) मान्य होगा कि नहीं.

2 अक्टूबर को वर्ष का दूसरा सूर्य ग्रहण

इस वर्ष का दूसरा सूर्य ग्रहण अश्विन माह के अमावस्या तिथि यानी 2 अक्टूबर को लगेगा. इस दिन सूर्य ग्रहण भारतीय समय के अनुसार रात के समय 9 बजकर 13 मिनट से लेकर 3 बजकर 17 मिनट यानी कुल 6 घंटे 4 मिनट तक रहेगा. सूर्य ग्रहण के रात में लगने के कारण यह सूर्य ग्रहण भारत में नजर नहीं आएगा. इस वर्ष का पहला सूर्य ग्रहण भी भारत में नजर नहीं आया था.

Krishnapingal Chaturthi 2024 : इस विधि से करें गणपति की पूजा, सभी विघ्न होंगे दूर

यहां दिखेगा सूर्य ग्रहण

2 अक्टूबर को लगने वाला वर्ष का दूसरा सूर्य ग्रहण दक्षिण अमेरिका के उत्तरी देशों ब्राजील, अर्जेटीना, पेरू, चिली के अलावा फिजी, होनेलुलु, अंटार्कटिका और दक्षिणी प्रशांत महासागर में नजर आएगा.

भारत में सूतक काल मान्य नहीं

शास्त्रों के अनुसार सूर्य ग्रहण लगने के 12 घंटे पहले से सूतक काल मान्य हो जाता है और ग्रहण के समाप्त होने पर सूतक का असर भी खत्म हो जाता है. ऐसे में साल के दूसरे सूर्य ग्रहण का भारत में नजर नहीं आने के कारण सूतक काल मान्य नहीं होगा.

दिखेगा रिंग ऑफ फायर का नजारा

इस सूर्य ग्रहण में रिंग ऑफ फायर का नजारा दिखेगा. रिंग ऑफ फायर तब बनता है जब चांद सूर्य को पूरी तरह से ढ़क लेता है और सूर्य की गोलाई का सिर्फ सिरा ही नजर आता है.

Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. एनडीटीवी इसकी पुष्टि नहीं करता है.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Krishnapingal Chaturthi 2024 : इस विधि से करें गणपति की पूजा, सभी विघ्न होंगे दूर
कब है वर्ष का दूसरा सूर्य ग्रहण, जानिए यह ग्रहण कहां कहां आएगा नजर
Weekly Festivals: इस सप्ताह 23 जून तक आएंगे ये प्रमुख त्योहार, यहां से नोट करें सही तारीख
Next Article
Weekly Festivals: इस सप्ताह 23 जून तक आएंगे ये प्रमुख त्योहार, यहां से नोट करें सही तारीख
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;