Sawan Ka First Somvar: सावन के पहले सोमवार में बन रहा गजकेसरी योग, पूजा करना रहेगा बेहद शुभ

Sawan Ka Pahala Somwar 2021: सावन 25 जुलाई से शुरू हो चुका है. आज सावन का पहला सोमवार है. आज शुभ मुहूर्त के साथ अशुभ संयोग भी बन रहा है. श‍िव की पूजा करते समय रखें इन बातों का ध्‍यान, ताकि प्रसन्‍न हो जाएं भोले नाथ. 

Sawan Ka First Somvar: सावन के पहले सोमवार में बन रहा गजकेसरी योग, पूजा करना रहेगा बेहद शुभ

Sawan Ka First Somvar : सावन के पहले सोमवार यानी 26 जुलाई के दिन कुछ अशुभ मुहूर्त भी बन रहें हैं. उन्‍हें भी जान लें.

नई दिल्‍ली :

Sawan Somwar Shubh Muhurat : आज 26 जुलाई 2021 को सावन मास का पहला सोमवार है. सावन मास भगवान शिव को बहुत प्रिय है. इसलिए शिव भक्त सावन मास में भगवान शिव और माता पार्वती की विधि पूर्वक पूजा अर्चना करते हैं. सोमवार का दिन भी भगवान शिव को समर्पित होता है. जब सावन का महीना हो और उसमें भी सोमवार का दिन हो तो शिव और माता पार्वती की पूजा का महत्व और बढ़ जाता है. हिंदी पंचांग के अनुसार, आज सावन के पहले सोमवार के दिन दो शुभ योग गजकेसरी योग और बुधादित्य योग का निर्माण हो रहा है. ज्योतिष गणना के अनुसार सावन के पहले सोमवार पर चंद्रमा और गुरू की युति से गजकेसरी योग और कर्क राशि में सूर्य और बुध ग्रह की युति से बुधादित्य योग बन रहा है. गजकेसरी योग ज्योतिष में बहुत शुभ और मंगलकारी माना जाता है.

 सावन के पहले सोमवार यानी 26 जुलाई के दिन कुछ अशुभ मुहूर्त भी बन रहें हैं. ऐसे में शिव भक्तों को भगवान भोलेनाथ और माता पार्वती की पूजा करते समय इस अशुभ मुहूर्त का जरूर ध्यान रखें नहीं तो सावन सोमवार व्रत और भगवान शिव एवं माता पार्वती की पूजा का कोई पुण्य लाभ नहीं मिलेगा. इस लिए आइये जानें इस अशुभ मुहूर्त को जिसमें भगवान शिव की पूजा वर्जित है.  


आज के अशुभ मुहूर्त

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आज राहुकाल का समय - सुबह 07 बजकर 30 मिनट से 9 बजे तक.
यमगंड- सुबह 10 बजकर 30 मिनट से 12 बजे तक.
गुलिक काल: आज 26 जुलाई को दोपहर 01 बजकर 30 मिनट से 03 बजे तक
दुर्मुहूर्त काल- दोपहर 12 बजकर 55 मिनट से 01 बजकर 49 मिनट तक. इसके बाद 03 बजकर 38 मिनट से 04 बजकर 32 मिनट तक.
पंचक- आज पूरा दिन पंचक रहेगा.
भद्रा- दोपहर 03 बजकर 24 मिनट से 27 जुलाई सुबह 02 बजकर 54 मिनट तक.