विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jun 02, 2022

RBI की CBDC को मॉनेटरी पॉलिसी और पेमेंट सिस्टम्स के अनुसार बनाने की योजना

CBDC एक ब्लॉकचेन पर बेस्ड पेमेंट सॉल्यूशन होता है, जिस पर देश के सेंट्रल बैंक का कंट्रोल रहता है

Read Time: 5 mins
RBI की CBDC को मॉनेटरी पॉलिसी और पेमेंट सिस्टम्स के अनुसार बनाने की योजना
सरकार की ओर से CBDC के डिवेलपमेंट में हस्तक्षेप नहीं किया जा रहा

देश में इस फाइनेंशियल ईयर में सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी (CBDC) लॉन्च की जा सकती है. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने कहा है कि CBDC मौजूदा मॉनेटरी पॉलिसी के साथ ही पेमेंट सिस्टम्स से भी जोड़ी जाएगी. इस CBDC पर RBI का कंट्रोल होगा और इसे देश के वित्तीय ढांचे के अनुसार बनाया जाएगा.

CBDC एक ब्लॉकचेन पर बेस्ड पेमेंट सॉल्यूशन होता है, जिस पर सेंट्रल बैंक का कंट्रोल रहता है. यह क्रिप्टोकरेंसी की तरह काम करता है लेकिन  क्रिप्टोकरेंसीज की तरह CBDC में वोलैटिलिटी और अन्य रिस्क नहीं होते. CBDC पर ट्रांजैक्शंस को सरकार की ओर से ट्रैक किया जा सकता है. RBI ने एक रिपोर्ट में कहा है, "CBDC को प्रूफ ऑफ कॉन्सेप्ट के प्रोसेस और ट्रायल के बाद लॉन्च किया जाएगा. इसका डिजाइन मॉनेटरी पॉलिसी के उद्देश्यों और पेमेंट सिस्टम्स के अनुसार बनाने की जरूरत है." हाल ही में RBI के एक अधिकारी ने बताया था कि CBDC को होलसेल और रिटेल सेगमेंट्स के लिए अलग लॉन्च किया जाएगा. 

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का कहना है कि CBDC से देश के लोगों के लिए पेमेंट के विकल्प बढ़ जाएंगे. केंद्र सरकार को उम्मीद है कि इससे फाइनेंशियल इनक्लूजन को बढ़ाने के उसके लक्ष्य को पूरा करने में भी मदद मिलेगी. सरकार की ओर से CBDC के डिवेलपमेंट में हस्तक्षेप नहीं किया जा रहा और इसकी पूरी जिम्मेदारी RBI को दी गई है.

हाल के दिनों में कुछ देशों ने CBDC लॉन्च करने की योजना पर काम शुरू किया है. अमेरिका में फेडरल रिजर्व CBDC लॉन्च करने की संभावना तलाश रहा है. रूस ने डिजिटल रूबल कही जाने वाली अपनी CBDC की टेस्टिंग शुरू कर दी है. इस वर्ष की शुरुआत में चीन ने विंटर ओलंपिक्स के दौरान अपने डिजिटल युआन का परीक्षण किया था. चीन में डिजिटल युआन का इस्तेमाल बढ़ाने की कोशिश की जा रही है. कैरिबियन देश जमैका की डिजिटल करंसी Jam-Dex जल्द लॉन्च हो रही है और इसके शुरुआती एक लाख यूजर्स को अतिरिक्त 16 डॉलर का फायदा मिलेगा. जमैका की सरकार ने इस डिजिटल करेंसी की लोगों के बीच लोकप्रियता बढ़ाने के लिए इंसेंटिव देने की स्ट्रैटेजी बनाई है. इसकी टेस्टिंग पिछले वर्ष पूरी की गई थी. जमैका के सभी लोगों के पास एक वॉलेट प्रोवाइडर या बैंक के जरिए Jam-Dex तक पहुंच होगी. बैंक एकाउंट रखने वाले जमैका के सभी लोग ऑटोमैटिक तरीके से Jam-Dex डिजिटल वॉलेट प्राप्त कर सकेंगे. 
 

Advertisement

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
क्रिप्टो करेंसी कारोबार के लिये टीडीएस दर में कटौती पर विचार करे सरकार: रिपोर्ट
RBI की CBDC को मॉनेटरी पॉलिसी और पेमेंट सिस्टम्स के अनुसार बनाने की योजना
Dogecoin यूजर्स अब Binance पर कमा सकते हैं 10% तक एनुअल पर्सेंटे यील्ड (APY)
Next Article
Dogecoin यूजर्स अब Binance पर कमा सकते हैं 10% तक एनुअल पर्सेंटे यील्ड (APY)
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;