अब गावस्कर ने स्वीकारा, इस गलती के कारण पिछले साल वर्ल्ड कप गंवाया

सेमीफाइनल में एक समय रवींद्र जडेजा और एमएस धोनी ने जीत की उम्मीदों को जिंदा कर दिया था, लेकिन आखिर में भारत को हार झेलने और टूर्नामेंट से बाहर होने पर मजबूर होना पड़ा.

अब गावस्कर ने स्वीकारा, इस गलती के कारण पिछले साल वर्ल्ड कप गंवाया

सुनील गावस्कर की फाइल फोटो

नई दिल्ली:

पिछले साल 2019 में इंग्लैंड में खेले गए वर्ल्ड कप के  सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों सेमीफाइनल में मिली हार का दर्द गाहे-बेगाहे सामने आता ही रहता है. अक्सर कोई न कोई इसकी समीक्षा करते हुए जख्मों पर नमक छिड़क ही देता है! और अब महान सुनील गावस्कर ने भी कह दिया है कि टीम इंडिया की गलती के कारण ही हमने वर्ल्ड कप जीतने का मौका गंवा दिया. सेमीफाइनल में एक समय रवींद्र जडेजा और एमएस धोनी ने जीत की उम्मीदों को जिंदा कर दिया था, लेकिन आखिर में भारत को हार झेलने और टूर्नामेंट से बाहर होने पर मजबूर होना पड़ा. 

टूर्नामेंट में खराब प्रदर्शन और सेमीफाइनल में हार के लिए कई क्रिकेट पंडितों ने नंबर-4 पर उचित बल्लेबाज न होने को बड़ा कारण बताया. अब पूर्व कप्तान गावस्कर ने भी इस पर सहमति जताते हुए कहा कि भारत की यह बड़ी गलती रही कि वह नंबर-4 पर एक उचित बल्लेबाज नहीं तलाश सका. सनी बोले कि जिस बात पर हमें ध्यान देने की जरूरत है, वह यह है कि नंबर 4, 5 और 6 पर बहुत ही अच्छा बल्लेबाज हो. और हमने पिछले साल विश्व कप में गलती कि हम नंबर-4 पर एक बेहतरीन बल्लेबाज नहीं तलाश सके. अगर हमारे पास इस ऑर्डर पर बेहतरीन बल्लेबाज होता, तो विश्व कप में एक अलग ही कहानी होती. 

गावस्कर ने कहा कि भारत के शुरुआती तीन क्रम पर इतने शानदार बल्लेबाजों का कब्जा है कि अक्सर ऐसा देखने में आया है कि विश्व कप के शुरुआती मैचों में नंबर-4 व 5 को नजरें जमाने के लिए लंबी पारियां खेलने का मौका ही नहीं मिला. और जब अचानक से ही आपके तीनों शीर्ष बल्लेबाज सस्ते में आउट हो गए. ऐसा किसी भी दिन विशेष या खराब दिन पर हो सकता है. दुर्भाग्यवश भारत के साथ ऐसा सेमीफाइनल में नॉकआउट मैचों में हुआ. और जब ऐसा हुआ, तो नंबर-4 और 5 इस तरह के हालात से तालमेल नहीं बैठा सके. वैसे हाल ही में संन्यास लेने वाले सुरेश रैना ने भी यह कहा था कि अंबाती रायुडू नंबर-4 के लिए भारत के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज थे. और अगर वह टीम में होते, तो भारत विश्व कप जरूर जीतता. रैना ने कहा था कि रायुडू नंबर-4 पर बेहतरीन थे. जिस तरीके से वह सीएसके के लिए खेल रहे थे, वह सर्वश्रेष्ठ विकल्प थे. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
       

VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.