दिल्ली : आप विधायक ने तोड़ी सीलिंग, कहा - किसी की गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं करूंगा; देखें-VIDEO

उत्तर-पूर्वी दिल्ली के सीलमपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक हाजी इशराक खान ने ब्रह्मपुरी इलाके में एक मकान की सीलिंग तोड़ी

दिल्ली : आप विधायक ने तोड़ी सीलिंग, कहा - किसी की गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं करूंगा; देखें-VIDEO

आम आदमी पार्टी के दिल्ली के सीलमपुर क्षेत्र के विधायक हाजी इशराक खान ने एक मकान में लगी सील तोड़ दी.

खास बातें

  • खान के कहा- मकान में सीलिंग लगाना गलत था
  • पड़ोस में रहने वाला पुलिस कर्मी घूस चाहता था
  • पुलिस कर्माी ने नगर निगम के साथ सीलिंग करवाई थी
नई दिल्ली:

उत्तर-पूर्वी दिल्ली के सीलमपुर विधानसभा क्षेत्र के ब्रह्मपुरी इलाके में एक मकान की सीलिंग तोड़ने का मामला सामने आया है. यह सीलिंग और किसी ने नहीं बल्कि आम आदमी पार्टी के सीलमपुर क्षेत्र के विधायक हाजी इशराक खान ने तोड़ी है. एक वीडियो सामने आया है जिसमें हाजी इशराक खान मकान मालिक के साथ खुद सील तोड़ते हुए दिखाई दे रहे हैं. यह वीडियो रविवार रात करीब आठ बजे का है जब हाजी इशराक खान अपने समर्थकों के साथ सील तोड़ने आए थे.

एनडीटीवी इंडिया ने जब आम आदमी पार्टी के सीलमपुर विधायक हाजी इशराक खान से पूछा कि क्या उन्होंने ही सीलिंग तोड़ी है और अगर हां तो क्यों तोड़ी है? इस पर खान ने कहा कि 'जिस मकान की सीलिंग तोड़ी गई है, वहां पर सीलिंग लगाना गलत था. जिस मकान पर सील लगाई गई थी उसके पड़ोस में रहने वाले एक पुलिस वाले ने मकान मालिक से घूस मांगी थी, जो मकान मालिक ने नहीं दी. इसलिए पुलिस वाले ने नगर निगम के साथ मिलकर यह मकान सील करवा दिया. हां मैंने सील तोड़ी है और आगे भी अपने इलाके में किसी की भी इस तरह की गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं करूंगा.'

सीलिंग मामले में मनोज तिवारी को राहत, अवमानना की कार्रवाई बंद, SC बोला- BJP चाहे तो कार्रवाई करे

जिस मकान की सील तोड़ी गई है वह समय सिंह त्यागी का है जो बीते 40 साल से इस जगह पर रह रहे हैं. त्यागी का आरोप है कि 'मेरा पड़ोसी पुलिस वाला घूस न मिलने के चलते बीते दो साल से हमको परेशान कर रहा है. हमारे यहां कोई अवैध निर्माण नहीं है. हमने कई जगह अधिकारियों से गुहार लगाई लेकिन कहीं भी सुनवाई नहीं हुई. रविवार शाम को विधायक हाजी इशराक खान अपनी मीटिंग के लिए आए थे. इस दौरान हमने उनको अपनी व्यथा बताई और उन्होंने खुद आकर हमारे मकान पर लगी सीलिंग हटा दी.'

आपको बता दें कि दिल्ली में सीलिंग मुख्यतः सुप्रीम कोर्ट की बनाई मॉनिटरिंग कमेटी के निर्देश पर हो रही है. यानी दिल्ली में सीलिंग तोड़ना सुप्रीम कोर्ट को चुनौती देने जैसा है. लेकिन राजनीतिक लाभ का लालच ऐसा है कि नेता सुप्रीम कोर्ट को चुनौती देने की जोखिम से भी बच नहीं रहे.

pg02bu34

बीते साल सितंबर में दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने उत्तर पूर्वी दिल्ली के गोकुलपुर में एक मकान की सीलिंग तोड़ी थी. यह मामला सुप्रीम कोर्ट भी गया था लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने उनको बरी कर दिया था.

VIDEO : मनोज तिवारी के खिलाफ अवमानना का केस बंद


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com