विज्ञापन
Story ProgressBack

रामदेव की बढ़ी मुश्किलें, पतंजलि फूड्स को करोड़ों के GST बकाया को लेकर मिला कारण बताओ नोटिस

Patanjali GST Notice: रामदेव की कंपनी को कारण बताओ नोटिस भेजकर यह बताने को कहा है कि उससे 27.46 करोड़ रुपये का इनपुट टैक्स क्रेडिट क्यों नहीं वसूला जाना चाहिए.

Read Time: 2 mins
रामदेव की बढ़ी मुश्किलें, पतंजलि फूड्स को करोड़ों के GST बकाया को लेकर मिला कारण बताओ नोटिस
रामदेव के नेतृत्व वाली पतंजलि आयुर्वेद समूह की कंपनी को GST आसूचना महानिदेशालय, चंडीगढ़ जोनल यूनिट से नोटिस मिला है.
नई दिल्ली:

रामदेव की मुश्किलें खत्म होने का नाम नही ले रही है. पहले सुप्रीम कोर्ट ने विज्ञापन देकर माफी मांगी मांगने का आदेश दिया. इसके बाद पंतजलि की दिव्य फार्मेसी के 14 प्रोडक्ट्स पर बैन लगा दिया गया है. वहीं, रामदेव की कंपनी के खिलाफ ताजा मामला टैक्स से जुड़ा है. पतंजलि फूड्स को माल एवं सेवा कर (जीएसटी) आसूचना विभाग ने कारण बताओ नोटिस भेजकर कंपनी से यह बताने को कहा है कि उससे 27.46 करोड़ रुपये का इनपुट टैक्स क्रेडिट क्यों नहीं वसूला जाना चाहिए.

कंपनी द्वारा 26 अप्रैल को नियामक में जमा कराए गए विवरण के अनुसार, रामदेव के नेतृत्व वाली पतंजलि आयुर्वेद समूह की कंपनी को जीएसटी आसूचना महानिदेशालय, चंडीगढ़ जोनल यूनिट से नोटिस मिला है. यह कंपनी मुख्य रूप से खाद्य तेल व्यवसाय में है.

कंपनी ने कहा, ‘‘कंपनी को एक कारण बताओ नोटिस प्राप्त हुआ है. कंपनी, उसके अधिकारियों और अधिकृत हस्ताक्षरकर्ताओं को कारण बताने के लिए कहा गया है कि 27,46,14,343 रुपये की इनपुट टैक्स क्रेडिट राशि (ब्याज सहित) क्यों नहीं वसूली जानी चाहिए, और क्यों जुर्माना नहीं लगाया जाना चाहिए.''

विभाग ने एकीकृत माल एवं सेवा कर (आईजीएसटी) अधिनियम, 2017 की धारा 20 के साथ पठित केंद्रीय माल एवं सेवा अधिनियम, 2017 और उत्तराखंड राज्य माल एवं सेवा अधिनियम, 2017 की धारा 74 और अन्य लागू प्रावधानों का हवाला देते हुए नोटिस दिया है.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
बेहद अहम और करीबी हैं भारत-भूटान संबंध, जिन्हें आगे बढ़ाएगा अदाणी समूह
रामदेव की बढ़ी मुश्किलें, पतंजलि फूड्स को करोड़ों के GST बकाया को लेकर मिला कारण बताओ नोटिस
वित्त वर्ष 2024 में अदाणी एनर्जी सॉल्यूशंस का रेवेन्यू 17 फीसदी बढ़ा, EBITDA बढ़कर 5,695 करोड़ हुआ
Next Article
वित्त वर्ष 2024 में अदाणी एनर्जी सॉल्यूशंस का रेवेन्यू 17 फीसदी बढ़ा, EBITDA बढ़कर 5,695 करोड़ हुआ
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;