बिहार : जनता दल यूनाइटेड में हर नेता सफाई क्यों दे रहा हैं?

जनता दल यूनाइटेड के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राम चंद्र प्रसाद सिंह पटना पहुंचे. लेकिन उनके स्वागत में वर्तमान राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह समेत उनके समर्थक नदारद दिखे.

पटना:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में शामिल होने के बाद पहली बार जनता दल यूनाइटेड के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष  राम चंद्र प्रसाद सिंह पटना पहुंचे. लेकिन उनके स्वागत में वर्तमान राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह समेत उनके समर्थक नदारद दिखे और खुद पार्टी सुप्रीमो नीतीश कुमार को सफाई देनी पड़ी कि उनकी पार्टी में क्या कोई शक्ति परीक्षण करेगा. केंद्रीय मंत्री बनने के बाद आरसीपी सिंह पहली बार सोमवार को पटना पहुंचे. उनके समर्थकों ने स्वागत में कोई कसर नहीं छोड़ी लेकिन हर वो पार्टी नेता जो कुछ हफ्ते पहले ललन सिंह के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनकर पटना आने पर सक्रिय था, इस बार नदारद दिखा. और खुद आरसीपी सिंह को एयरपोर्ट पर ये सफाई देनी पड़ीं.

केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह, ‘पार्टी में कोई विवाद नहीं हैं और मेरे और ललन बाबू में कोई फर्क नहीं हैं शक्ति प्रदर्शन क्या होगा हैं.' लेकिन पार्टी में हालही में शामिल हुए उपेन्द्र कुशवाहा जहानाबाद में दिखे और उनको मलाल था कि ना पोस्टर में और ना कार्यक्रम में उन्हें बुलाया गया. ये हाल के दिनों में ललन सिंह से करीब हुए हैं.

PM मोदी आखिर CM नीतीश कुमार से क्यों नहीं मिलना चाहते?


जनता दल यूनाइटेड नेता उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा ‘कुछ लोगों को स्थानीय स्तर पर गलतफहमी हैं.' वहीं, अब तो नीतीश कुमार को भी बोलना पड़ा कि सब कुछ उनके पार्टी में ठीक हैं लेकिन अब इस सवाल से वो भी परेशान दिखे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा, 'ये सब गलत बात हैं. जनता दल यूनाइटेड में कोई क्या शक्ति परीक्षण करेगा यहां ये सब कुछ नहीं हैं.' लेकिन पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं में अब गुटबाजी साफ झलक रहा हैं, जिसका खामियाजा अगर नीतीश कुमार ने जल्द डैमेंज कंट्रोल नहीं किया तो नुकसान हो सकता हैं.