महिलाओं ने सब्जियों के बीज से बनाई 'ईको फ्रेंडली राखी', कर रहीं लाखों की इनकम - देखें Photos

इन महिलाओं ने वेजीटेबल सीड्स यानी सब्जियों के बीज, धान और बांस से राखियां बनाई हैं. इन राखियों में प्लास्टिक जैसी पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने वाली चीजों का इस्तेमाल न करके ऑर्गैनिक चीजों को ही यूज किया गया है.

महिलाओं ने सब्जियों के बीज से बनाई 'ईको फ्रेंडली राखी', कर रहीं लाखों की इनकम - देखें Photos

महिलाओं ने सब्जियों के बीज से बनाई 'ईको फ्रेंडली राखी', कर रहीं लाखों की इनकम

कहते हैं कि अगर आप में हुनर है तो आपका कोई नहीं रोक सकता और आपका हुनर खुद ही अपना रास्ता बना लेता है. फिर आप चाहे जैसे माहौल में हों अपनी चाह के लिए राह ढूंढ़ ही लेंगे और ऐसा ही कुछ कर दिखाया है छत्तीसगढ़ की कुछ महिलाओं ने. यहां कुछ महिलाओं ने कुछ ऐसा किया है जिसे जानकर आप आश्चचर्य भी करेंगे और गर्व भी. ये सभी महिलाएं छत्तीसगढ़ में एक सेल्फ हेल्फ ग्रुप का हिस्सा हैं. इन महिलाओं का यह हुनर आपके आने वाले रक्षा बंधन के त्योहार को और खास बना देगा. 

महिलाओं ने बनाई ईको फ्रेंडली राखी 
इन महिलाओं ने वेजीटेबल सीड्स यानी सब्जियों के बीज, धान और बांस से राखियां बनाई हैं. इन राखियों में प्लास्टिक जैसी पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने वाली चीजों का इस्तेमाल न करके ऑर्गैनिक चीजों को ही यूज किया गया है. 

1 लाख से ज्यादा की कमाई 
ग्रुप की एक सदस्य लता साहू बताती है कि इन महिलाओं ने पिछले साल भी 5000 राखियां बनाई थी जिससे इन्होंने 1 लाख रुपये की कमाई की थी। इस साल ये महिलाएं 90,000 रुपये की कमाई कर चुकी हैं. अभी रक्षा बंधन के त्योहार में कुछ वक्त बचा है और ऐसे में इन स्वयं सेवी महिलाओं के पास कमाई को बेहतर करने का मौका है. ये महिलाएं समाज की उन महिलाओं के लिए मिसाल हैं जो किसी न किसी कारण से विकास के रास्ते पर कही पीछे छूट गई हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


करीब है रक्षा बंधन का त्योहार 
रक्षा बंधन का त्योहार अब काफी करीब है और इस साल यह 22 अगस्त को मनाया जाएगा. इस फेस्टिवल को भारत में बड़ी संख्या में लोग मनाते हैं और बहन अपने भाई की कलाई पर राखी बांधकर उससे रक्षा का वचन मांगती है.