मेट्रो स्टेशन पर CPR देकर महिला कॉन्टेबल ने बचाई शख्स की जान, कैमरे में देखकर मदद के लिए पहुंची - देखें Video

CISF की एक महिला कॉन्सटेबल ने इंद्रप्रस्थ मेट्रो स्टेशन पर तुरंत CPR  देकर एक शख्स की जान बचा ली. जानकारी के मुताबिक, कॉन्सटेबल अनिल गुंजा सीसीटीवी पर्यवेक्षक हैं, जो कि घटना के वक्त ड्यूटी पर थीं.

मेट्रो स्टेशन पर CPR देकर महिला कॉन्टेबल ने बचाई शख्स की जान, कैमरे में देखकर मदद के लिए पहुंची - देखें Video

मेट्रो स्टेशन पर CPR देकर महिला कॉन्टेबल ने बचाई शख्स की जान, कैमरे में देखकर मदद के लिए पहुंची

नई दिल्ली:

CISF की एक महिला कॉन्सटेबल ने इंद्रप्रस्थ मेट्रो स्टेशन पर तुरंत CPR  देकर एक शख्स की जान बचा ली. जानकारी के मुताबिक, कॉन्सटेबल अनिल गुंजा सीसीटीवी पर्यवेक्षक हैं, जो कि घटना के वक्त ड्यूटी पर थीं, तभी उन्होंने शख्स को मेट्रो से निकलकर प्लेटफॉर्म पर गिरते देखा. यह देखते ही उन्होंने तुरंत बाकी अधिकारियों को सूचना दी और खुद भी प्लेटफॉर्म पर पहुंच गईं. उन्होंने प्लेटफॉर्म पर बेहोश पड़े जावेद अली नाम के शख्स को तुरंत सीपीआर देकर उसकी जान बचा ली. फिलहाल, जावेद अली अब अस्पताल में भर्ती हैं, जहां उनका इलाज चल रहा है.

देखें Video:

खबरों के मुताबिक, दिल्ली के इंट्रप्रस्थ मेट्रो स्टेशन पर CISF के सीसीटीवी ऑब्जर्वर ड्यूटी कॉन्स्टेबल अनिल गुंजा ने अपनी ड्यूटी के दौरान देखा कि एक यात्री मेट्रो से डी-बोर्ड (द्वारका से नोएडा की ओर बढ़ रहा है) करते हुए प्लेटफार्म नं .02 पर पहुंचा और प्लेटफॉर्म पर अचानक गिर गया और बेहोश हो गया. तुरंत, उन्होंने अपने वरिष्ठों को मामले की सूचना दी और खुद घटनास्थल पर पहुंच गईं. उन्होंने देखा कि यात्री बेहोश था और ठीक से साँस नहीं ले रहा था. तुरंत, उन्होंने SOP का अवलोकन करके यात्री को कार्डियोपल्मोनरी रिससिटेशन (CPR) देना शुरू किया. इसके बाद यात्री को होश आ गया. यात्री ने अपनी पहचान श्री जावेद अली के रूप में बताई, जिनकी आयु लगभग 45 वर्ष है, जो उत्तम नगर के रहने वाले हैं.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सीआईएसएफ और स्टेशन कंट्रोलर के शिफ्ट प्रभारी मौके पर पहुंचे. इसके बाद, DMRP और एम्बुलेंस को बुलाकर जावेद अली को इलाज के लिए जे बी पंत अस्पताल भेजा गया. कुछ घंटों के बाद, यात्री के स्वास्थ्य के बारे में पूछने पर, डॉक्टर ने बताया, कि उसकी हालत स्थिर है. बाद में जावेद अली ने अपनी जान बचाने के लिए CISF कर्मियों का धन्यवाद किया.