'मेरे नाम का इस्तेमाल अमेरिका को बांटने के लिए किया गया', राष्ट्रपति जो बाइडेन की स्पीच पर डोनाल्ड ट्रम्प का पलटवार

ट्रम्प, जिन्होंने इस सप्ताह की शुरुआत में कैपिटोल हिल की बरसी पर पूर्व निर्धारित प्रेस कॉन्फ्रेंस को रद्द कर दिया था, ने अपने दावे को फिर दोहराया कि चुनाव में "धांधली" हुई थी. पूर्व राष्ट्रपति ने कहा, "संख्याओं को देख लीजिए, वह सिर्फ अपने लिए बोलते हैं." 

'मेरे नाम का इस्तेमाल अमेरिका को बांटने के लिए किया गया', राष्ट्रपति जो बाइडेन की स्पीच पर डोनाल्ड ट्रम्प का पलटवार

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने गुरुवार को राष्ट्रपति जो बाइडेन पर पलटवार किया है. (फाइल फोटो)

वाशिंगटन:

अमेरिका (United States) के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) ने गुरुवार को राष्ट्रपति जो बाइडेन (US President Joe Biden) पर पलटवार करते हुए उन पर "राजनीतिक रंगमंच" का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया और कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति ने कैपिटल दंगे की सालगिरह पर दिए अपने भाषण में उन पर हमला किया है.

हालाँकि बाइडेन ने अपने भाषण में ट्रम्प के नाम का उल्लेख नहीं किया, लेकिन उन्होंने स्पष्ट कर दिया कि वह किसके बारे में बात कर रहे थे. उन्होंने कहा कि एक शख्स ने 2020 के राष्ट्रपति चुनावों में हार से बचने के लिए धोखा देने की कोशिश की थी.

इसके बाद ट्रम्प ने एक बयान में कहा, "जो बाइडेन ने आज मेरे नाम का इस्तेमाल अमेरिका को और बांटने की कोशिश के लिए किया." ट्रम्प ने कहा, "यह राजनीतिक रंगमंच पर प्रदर्शित व्याकुलता इस तथ्य का प्रमाण है कि बाइडेन पूरी तरह से विफल हो चुके हैं."

'ये मार्च 2020 नहीं' : ओमिक्रॉन की तेज रफ्तार के बीच बोले जो बाइडेन- US मुकाबले के लिए तैयार

अपने भाषण के दौरान जो बाइडेन ने  "झूठ का जाल" फैलाने के लिए ट्रम्प को फटकार लगाई. उन्होंने कहा कि 2020 के चुनावों में वोटों की दोबारा गिनती धोखाधड़ी से सत्ता पर कब्जा करने की एक विफल कोशिश थी. उन्होंने कहा कि रिपब्लिकन समर्थकों की भीड़ ने चुनाव परिणाम को रोकने के लिए ही कैपिटोल हिल में प्रवेश किया था.

ट्रम्प, जिन्होंने इस सप्ताह की शुरुआत में कैपिटोल हिल की बरसी पर पूर्व निर्धारित प्रेस कॉन्फ्रेंस को रद्द कर दिया था, ने अपने दावे को फिर दोहराया कि चुनाव में "धांधली" हुई थी. पूर्व राष्ट्रपति ने कहा, "संख्याओं को देख लीजिए, वह सिर्फ अपने लिए बोलते हैं." 

डोनाल्ड ट्रंप ने अपना ट्विटर अकाउंट वापस पाने के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाया

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


ट्रम्प ने कहा, "वे न्यायोचित नहीं हैं, इसलिए मिलीभगत कर मीडिया से केवल बड़ा झूठ कहलवाते हैं, जबकि वास्तव में चुनाव ही सबसे बड़ा झूठ था." बता दें कि फर्जी मतदान और वोटों की गिनती के ट्रम्प के दावों को राज्यों, न्याय विभाग और अमेरिकी अदालतों ने बार-बार खारिज कर दिया था.