ईंधन की कीमतों में कटौती के बाद भारत की विदेश नीति के कायल हुए पूर्व पाक पीएम, बोल दी ये बड़ी बात

पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान ने एक ट्वीट में लिखा कि क्वाड का हिस्सा होने के बावजूद, भारत ने अमेरिका के दबाव के बावजूद जनता को राहत देने के लिए रियायती दरों पर रूस से तेल खरीदा. हमारी सरकार एक स्वतंत्र विदेश नीति की मदद से यही हासिल करने के लिए काम कर रही थी.

ईंधन की कीमतों में कटौती के बाद भारत की विदेश नीति के कायल हुए पूर्व पाक पीएम, बोल दी ये बड़ी बात

इमरान खान ने की भारत की तारीफ

इस्लामाबाद:

पाकिस्तान के पूर्व पीएम इन दिनों फिर से भारत की तारीफ में कसीदे पढ़ते नजर आ रहे हैं. दरअसल इस बार इमरान खान ने "अमेरिका के दबाव" के बावजूद रूस से रियायती तेल खरीदने के लिए भारत की प्रशंसा करते नजर आए. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार एक स्वतंत्र विदेश नीति की मदद से इसे हासिल करने के लिए काम कर रही है. इसके साथ ही उन्होंने पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एन) के नेतृत्व वाली सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि मौजूदा सरकार बिना सिर वाले मुर्गे की तरह इधर-उधर भाग रही है.

इमरान खान की यह प्रतिक्रिया भारत सरकार की ओर से पेट्रोल की कीमत में 9.5 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत में 7 रुपये प्रति लीटर की कटौती किए जाने के बाद आई है. इमरान खान ने एक ट्वीट में लिखा कि क्वाड का हिस्सा होने के बावजूद, भारत ने अमेरिका के दबाव के बावजूद जनता को राहत देने के लिए रियायती दरों पर रूस से तेल खरीदा. हमारी सरकार एक स्वतंत्र विदेश नीति की मदद से यही हासिल करने के लिए काम कर रही थी.

इमरान खान ने कहा कि उनकी सरकार जनता को राहत प्रदान करने के लिए इसी तरह की कार्रवाई करना चाहती थी, लेकिन "मीर जाफर और मीर सादिक सत्ता परिवर्तन के लिए बाहरी दबाव के सामने झुक गए."  पूर्व पाकिस्तानी पीएम ने ट्वीट कर कहा, "हमारी सरकार के लिए पाकिस्तान का हित ही सबसे अहम था, लेकिन दुर्भाग्य से स्थानीय एमआई जाफ़र्स और मीर सादिक सत्ता परिवर्तन के लिए बाहरी दबाव के आगे झुके और वो अब बिना सिर वाले मुर्गे की तरह अर्थव्यवस्था के साथ देश चला रहे हैं."

ये भी पढ़ें; भारत के लिए अजनबी नहीं है ऑस्ट्रेलिया के अगले प्रधानमंत्री एंथनी अल्बानीस

आपको बता दें कि ऐसा पहली बार नहीं हो रहा है कि पूर्व पाक पीएम इमरान खान भारत की तारीफ करते नजर आए हों. इससे पहले भी जब वो पाकिस्तान में अविश्वास प्रस्ताव का सामना कर रहे थे. तब भी उन्होंने अपने भाषण में भारत की विदेश नीति की खूब प्रशंसा की थी. उनके इस बयान ने दुनियाभर में जमकर सुर्खियां बटोरी थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दिल्ली के भलस्वा डेयरी इलाके में फर्नीचर वेयरहाउस में लगी आग