'Farmers Movement' - 134 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | रविवार मार्च 28, 2021 08:01 AM IST
    अधिकारियों ने बताया कि जब अबोहर के विधायक अरुण नारंग स्थानीय नेताओं के साथ संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करने के लिए मलोट पहुंचे तो प्रदर्शनकारी किसानों के एक समूह ने उन्हें घेर लिया और उन पर और उनके वाहनों पर काली स्याही फेंकी गई. पुलिस ने बताया कि कुछ पुलिसकर्मी विधायक और स्थानीय नेताओं को एक दुकान में ले गए लेकिन बाद में जब वे इससे बाहर आए, तो प्रदर्शनकारियों ने कथित तौर पर उनकी पिटाई की और नारंग के कपड़े फाड़ दिए. अधिकारियों ने बताया कि नारंग के साथ मौजूद पुलिसकर्मियों को उन्हें प्रदर्शनकारियों से बचाने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा. विधायक को बाद में पुलिस ने सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया.
  • India | शुक्रवार मार्च 26, 2021 06:09 AM IST
    संगठन के महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘हम कल भारत बंद में शामिल नहीं हो रहे हैं. दिल्ली और देश के अन्य हिस्सों में बाजार खुले रहेंगे. जारी गतिरोध का समाधान केवल वार्ता प्रक्रिया से किया जा सकता है. कृषि कानूनों में संशोधन पर चर्चा होनी चाहिए जो मौजूदा कृषि को लाभ योग्य बना सकते हैं.’’ किसान नेता अभिमन्यु कोहाड़ ने कहा कि ‘भारत बंद’ का बड़ा प्रभाव हरियाणा और पंजाब में होगा. उन्होंने कहा कि चुनावी राज्यों-तमिलनाडु, असम, पश्चिम बंगाल, केरल और पुडुचेरी के लोगों से बंद में शामिल नहीं होने की अपील की गई है.
  • India | बुधवार मार्च 17, 2021 04:40 PM IST
    बुधवार को भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत अपने सैकड़ों समर्थकों समेत गाजीपुर बॉर्डर पहुंचे. यहां धरने पर बैठे किसानों से मुलाकात कर मेघालय के राज्यपाल और बीजेपी नेता सत्यपाल मलिक की खूब तारीफ की. उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से उन्हें मध्यस्थता करनी चाहिए. किसान उनकी बात जरूर मानेंगे.
  • India | सोमवार मार्च 15, 2021 07:35 AM IST
    मलिक ने किसानों की दशा का जिक्र करते हुए कहा, “इन बेचारों की स्थिति आप देखिए. वे लोग जो चीज (फसल) उपजाते हैं, उसके दाम हर साल घट जाते हैं और जो चीजें खरीदते हैं, उनके दाम बढ़ते जाते हैं. उन्हें तो पता भी नहीं है कि वे गरीब कैसे होते जा रहे हैं. वे जब (बीज की) बुवाई करते हैं, तब दाम कुछ होता है और जब फसल काटते हैं तब वह 300 रुपये कम हो जाता है.” नये कृषि कानूनों को सही ठहराने के लिए भाजपा द्वारा दी जा रही दलील पर तंज करते हुए मलिक ने कहा, “बहुत शोर भी मचाया गया कि किसान दूसरी जगह कहीं भी (फसल) बेच सकते हैं. वह तो 15 साल पुराना कानून है, लेकिन उसके बावजूद मथुरा के किसान जब गेहूं लेकर पलवल जाते हैं तो उन पर लाठी चार्ज हो जाता है. सोनीपत का किसान जब नरेला जाता है, तो उस पर लाठी चार्ज हो जाता है.”
  • India | सोमवार मार्च 15, 2021 01:23 PM IST
    अभय चौटाला ने कहा, ‘‘उन चारों (अजय चौटाला, दुष्यंत चौटाला, दिग्विजय चौटाला, नैना चौटाला) को आने दीजिए (ऐलनाबाद से चुनाव लड़ने के लिए), उन्हें पता चल जाएगा कि उनका क्या महत्व है.’’ उन्होंने कहा कि ऐलनाबाद सीट (सिरसा जिला) पर उपचुनाव का परिणाम यह तय कर देगा कि चौधरी देवीलाल का असली वारिस कौन है. जजपा, हरियाणा में सत्तारूढ़ भाजपा का सहयोगी दल है. राज्य की 90 सदस्यीय विधानसभा में फिलहाल दो सीटें रिक्त हैं. ऐलनाबाद के अलावा एक अन्य रिक्त सीट कालका है.
  • India | सोमवार मार्च 15, 2021 02:01 AM IST
    बयान में कहा गया कि मोर्चा की बैठक के दौरान यह निर्णय हुआ कि प्रदर्शनकारी प्रदर्शन स्थलों पर कोई स्थायी निर्माण कार्य नहीं करेंगे. वक्तव्य में यह भी कहा गया कि एसकेएम (SKM) के कई नेता पश्चिम बंगाल गए हैं, जहां वे अपने आंदोलन के समर्थन में प्रचार करेंगे और मतदाताओं से ‘किसान विरोधी’ भाजपा को वोट नहीं देने की अपील करेंगे. इसमें कहा गया है कि एसकेएम (SKM) के प्रतिनिधिमंडल ने रविवार को बंगाल के सिंगूर और आसनसोल में महापंचायतों को भी संबोधित किया.
  • India | रविवार मार्च 14, 2021 07:06 AM IST
    गौरतलब है कि हजारों किसान, जिनमें ज्यादातर पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के हैं, दिल्ली सीमा के सिंघू, टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर पर तीन महीने से अधिक समय से डेरा डाले हुए हैं, जो कृषि कानूनों को रद्द करने और फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर कानूनी गारंटी की मांग कर रहे हैं.
  • India | मंगलवार मार्च 2, 2021 11:55 PM IST
    Farmers Movement: संयुक्त किसान मोर्चा (Sanyukta Kisan Morcha) ने आज सिंघु बॉर्डर पर एक आम बैठक आयोजित की. आगामी दिनों के कार्यक्रम के लिए इसमें कई निर्णय लिए गए. 6 मार्च को दिल्ली की सीमाओं पर विरोध प्रदर्शन शुरू होने के 100 दिन हो जाएंगे. उस दिन दिल्ली व दिल्ली सीमा के विभिन्न विरोध स्थलों को जोड़ने वाले केएमपी एक्सप्रेसवे पर 5 घंटे की नाकाबंदी होगी. सुबह 11 से शाम 4 बजे के बीच जाम किया जाएगा. यहां टोल प्लाजा को टोल फीस जमा करने से भी मुक्त किया जाएगा. शेष भारत में आंदोलन को समर्थन के लिए और सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने के लिए घरों और कार्यालयों पर काले झंडे लहराए जाएंगे. संयुक्त किसान मोर्चा ने प्रदर्शनकारियों से उस दिन काली पट्टी बांधने का आह्वान किया है.
  • India | मंगलवार मार्च 2, 2021 11:38 PM IST
    दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर दिल्ली से गाजियाबाद आने वाली लेन मंगलवार की सुबह करीब आठ बजे दिल्ली पुलिस द्वारा खोल दी गई. दोपहर करीब एक बजे तक यह लेन खुली रही और ट्रैफिक भी फर्राटे भरता हुआ निकलता रहा. आंदोलनकारी किसानों की ओर से इस लेन को खोले जाने का स्वागत किया गया. लेकिन दोपहर एक बजे के बाद दिल्ली पुलिस ने बैरिकेडिंग लगा दी. भारतीय किसान यूनियन के मीडिया प्रभारी धर्मेंद्र मलिक का कहना है कि आंदोलन की ओर से बराबर दिल्ली पुलिस से यह मांग की जा रही है कि जिस प्रकार 26 जनवरी से पूर्व दिल्ली से गाजियाबाद की ओर आने वाली दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे के लेन खुली हुई थी, उसे उसी प्रकार खुला रखा जाए ताकि आने जाने वाले लोगों को परेशानी न हो. 
  • India | मंगलवार मार्च 2, 2021 09:29 PM IST
    Farmers Movement: किसान संगठन अब केंद्र सराकर के खिलाफ एक बार फिर अपना आंदोलन तेज कर रहे हैं. इसी सिलसिले में संयुक्त किसान मोर्चा (Sanyukta Kisan Morcha) ने मंगलवार को एक बड़ा ऐलान किया है. इस ऐलान के मुताबिक  6 मार्च को केएमपी एक्सप्रेस-वे को किसान जाम करेंगे. बंगाल में 12 मार्च को किसानों की विशाल रैली होगी. इसके अलावा बंगाल समेत उन सभी राज्यों में संयुक्त किसान मोर्चा बीजेपी का विरोध करेगा जहां कुछ की समय बाद चुनाव होने हैं. 
और पढ़ें »
'Farmers Movement' - 166 वीडियो रिजल्ट्स
और देखें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com