क्या होते हैं पॉकमार्क्स? जानिए इनसे निपटने के तरीके

जानते हैं कि आखिर पॉकमार्क्स से कैसे निपटा जाए.

क्या होते हैं पॉकमार्क्स? जानिए इनसे निपटने के तरीके

पॉकमार्क्स से निपटने के लिए ट्राई करें ये टिप्स; फोटो: iStock

खास बातें

  • Treat pockmarks with these tips
  • Follow these tips to tackle pockmarks
  • Try out this beauty guide to fix pockmarks

हर तरह की स्किन के साथ अलग-अलग स्किन संबंधी समस्याएं होती हैं, लेकिन एक चीज़ जो कई बार समान होती है वो है मुंहासों के बाद या किसी संक्रामक बीमारी के कारण होने वाले मार्क्स, जिन्हें पॉकमार्क्स भी कहा जाता है. चिकनपॉक्स के बाद मुंहासों या उनके निशान के कारण आपकी त्वचा पर छोटे-छोटे छेद हो जाते हैं जो पॉकमार्क्स के रूप में जाने जाते हैं. इनसे निपटने के बहुत सारे तरीके हैं लेकिन असरदार उपाय और बेस्ट रिज़ल्ट के लिए सही विकल्प चुनना ज़रूरी है. केमिकल पीलिंग से लेकर स्कार ट्रीटमेंट क्रीम तक, हम आपको पॉकमार्क्स से निपटने के कई तरीके बताएंगे. तो चलिए जानते हैं इनके बारे में. 

पॉकमार्क्स क्या हैं?

जब स्किन पर चेचक या मुँहासे होते हैं तो उनकी वजह से स्किन पर दाग धब्बे या हल्के गड्ढे पड़ने लगते हैं. जिसे पॉकमार्क्स कहा जाता है. इसके अलावा पॉकमार्क्स मुँहासे, बैक्टीरियल इंफेक्शन और भी अन्य कई वजहों से हो सकते हैं. स्किन प्रॉब्लम के बाद त्वचा पर कुछ निशान पड़ जाते हैं जिसकी वजह से हमारी स्किन डैमेज लगने लगती है. पॉकमार्क्स से निपटना काफी मुश्किल होता है लेकिन सही ट्रीटमेंट और प्रोडक्ट की मदद से आप इससे जल्द छुटकारा पा सकते हैं. एपिडर्मिस के नीचे की स्किन की लेयर के डैमेज होने की वजह से भी पॉकमार्क हो सकते हैं.

पॉकमार्क्स से निपटने के तरीके

1. फेस मसाज

चेहरे की मालिश सूजन को कम करने और स्किन इन्फ्लेमेशन और टेक्सचर में सुधार करने का एक शानदार तरीका है, जिससे आपकी स्किन टोन बैलेंस हो जाती है. मसाज करने से सीधे पॉकमार्क को नहीं हटाया जा सकता है लेकिन इन्हें मसाज के ज़रिए कम किया जा सकता है. चेहरे की मालिश करने के लिए आप मैनुअल या तकनीकी तरीकों का उपयोग कर सकते हैं.

2. केमिकल पील ट्रीटमेंट

यह पॉकमार्क से निपटने का अच्छा तरीका है. इस प्रक्रिया को एक्सफोलिएशन के नाम से भी जाना जाता है, जो स्किन की नई सेल्स को दोबारा बनाने में मदद करता है. साथ ही यह स्किन की ऊपरी परत को हटाकर नई स्किन लेयर तैयार करता है. यह प्रक्रिया पॉकमार्क्स को कम करती है और निशान की सतह को भी बैलेंस करती है. इसे शुरू करने से पहले आप अपने स्किन डरमा लॉजिस्ट से भी सलाह ले सकती हैं.

bigoj2f

पॉकमार्क्स से निपटने का एक और तरीका है केमिकल पीलिंग

3. स्कार ट्रीटमेंट क्रीम

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ये ओटीसी क्रीम दाग-धब्बों से निपटने का आसान तरीका है क्योंकि ये मार्क्स को कम करने में मदद करती है, इसलिए इन्हें नियमित रूप से इस्तेमाल किया जाना चाहिए. हालांकि यह ट्रीटमेंट बाकि ट्रीटमेंट्स के मुकाबले असर दिखाने में ज्यादा समय लेता हैं. यह कभी-कभी त्वचा पर हल्की रेडनेस भी पैदा कर सकता है.