पाकिस्तानी महिला एजेंट के झांसे में आया भारतीय जवान, सीक्रेट जानकारी देने के आरोप में गिरफ्तार

राजस्थान पुलिस के महानिदेशक (खुफिया) उमेश मिश्रा ने एक बयान में कहा, "राजस्थान पुलिस ने जोधपुर में बेहद संवेदनशील रेजिमेंट में तैनात भारतीय सेना के एक जवान को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के लिए काम करने वाली एक महिला एजेंट को सूचना लीक करने के आरोप में गिरफ्तार किया है."

पाकिस्तानी महिला एजेंट के झांसे में आया भारतीय जवान, सीक्रेट जानकारी देने के आरोप में गिरफ्तार

सोशल मीडिया के जरिए पाक एजेंट ने जवान को फंसाया

जयपुर:

पाकिस्तान महिला एजेंट को सीक्रेट जानकारी देने के आरोप में भारतीय जवान को गिरफ्तार किया गया है. राजस्थान पुलिस ने जवान की गिरफ्तारी की पुष्टि की है. राजस्थान पुलिस ने बताया कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के लिए काम करने वाली एक महिला एजेंट को कथित रूप से जानकारी लीक करने के आरोप में जवान को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने कहा कि भारतीय सेना के जवान की पहचान प्रदीप कुमार के रूप में हुई है.

राजस्थान पुलिस के महानिदेशक (खुफिया) उमेश मिश्रा ने एक बयान में कहा, "राजस्थान पुलिस ने जोधपुर में बेहद संवेदनशील रेजिमेंट में तैनात भारतीय सेना के एक जवान को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के लिए काम करने वाली एक महिला एजेंट को सूचना लीक करने के आरोप में गिरफ्तार किया है." पुलिस के अनुसार कुमार जोधपुर में भारतीय सेना की अति संवेदनशील रेजीमेंट में तैनात थे और वह सोशल मीडिया के जरिए महिला एजेंट के लगातार संपर्क में थे और रणनीतिक महत्व की जानकारियां तक साझा कर रहे थे.

पुलिस ने एक प्रेस बयान में कहा कि सेना के जवान पर कार्रवाई करते हुए 18 मई को दोपहर में उसे हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की गई. करीब छह-सात महीने पहले उक्त महिला के पास से आरोपी के मोबाइल फोन पर कॉल आई, जिसके बाद दोनों व्हाट्सएप पर चैट, वॉयस कॉल और वीडियो कॉल के जरिए एक-दूसरे से बात करने लगे.

ये भी पढ़ें: पुणे में रविवार को राज ठाकरे की रैली, पुलिस ने लगाए कई प्रतिबंध

महिला ने परिचय के दौरान बताया खुद को एमपी के ग्वालियर से बताया. उसने आरोपी से शादी का झांसा देकर भारतीय सेना से जुड़े गोपनीय दस्तावेज मांगे. पुलिस ने कहा कि आरोपी ने अपने कार्यालय से सेना से संबंधित दस्तावेजों की तस्वीरें चुरा लीं और महिला एजेंट को भेज दी. इस मामले की पुष्टि होने पर आरोपी के विरुद्ध सरकारी गोपनीयता अधिनियम, 1923 के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


असम में बाढ़ क कारण आठ लाख से ज्यादा लोग प्रभावित, चार और लोगों की मौत