विज्ञापन
Story ProgressBack

पानी पर पहरा: 8 तस्वीरों में समझिए, बूंद-बूंद के लिए तरसती दिल्ली की सियासी कहानी

हिमाचल प्रदेश सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि वह अब दिल्ली के लिए 137 क्यूसेक पानी नहीं दे पाएगा. इसके पीछे की वजह ये बताई गई है कि उसके पास फिलहाल इतना पानी ही नहीं है.

पानी पर पहरा: 8 तस्वीरों में समझिए, बूंद-बूंद के लिए तरसती दिल्ली की सियासी कहानी
दिल्ली में और गहरा सकता है जल संकट.
नई दिल्ली:

राजधानी दिल्ली पानी की एक-एक बूंद के लिए तरसने वाली है. ये कहकर हम आपको डराना नहीं चाहते हैं, लेकिन हालात कुछ ऐसे ही बनते दिख रहे हैं. दरअसल, ऐसा इसलिए भी क्योंकि हिमाचल सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में गुरुवार को बताया है कि वह दिल्ली के लिए 137 क्यूसेक पानी नहीं छोड़ सकती है. हिमाचल सरकार ने कहा है कि उसके पास इतना अतिरिक्त पानी है नहीं कि वह दिल्ली को पानी मुहैया करा सके. 

Latest and Breaking News on NDTV

दिल्ली में जल संकट को लेकर अब सियासत भी तेज हो गई है. दिल्ली की जल मंत्री आतिशी ने बीते शनिवार को आरोप लगाया था कि हरियाणा मुनक नहर के माध्यम से दिल्ली को उसके हिस्से का पानी नहीं छोड़ रहा है.

Latest and Breaking News on NDTV

उन्होंने कहा था कि हरियाणा और दिल्ली के बीच हुए समझौते के अनुसार हरियाणा को मुनक नहर के माध्यम से दिल्ली को 1050 क्यूसेक पानी छोड़ना था. 

Latest and Breaking News on NDTV

NDTV की रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ था कि कुछ लोग मुनक नहर से पानी चुरा रहे हैं. इस खबर के सामने आने के बाद आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया था कि जल माफियाओं को दिल्ली सरकार के अधिकारियों से मदद मिल रही है. 

Latest and Breaking News on NDTV


AAP ने एलजी को इस मामले में चिट्ठी लिखकर यह भी दावा किया है कि हरियाणा भी उतना पानी नहीं छोड़ रहा, जितना उसे देने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने कहा है.

Latest and Breaking News on NDTV

आतिशी ने एलजी को लिखी थी चिट्ठी. इस चिट्ठी में आतिशी ने कहा था कि जनवरी 2023 में दिल्ली जल बोर्ड ने 1179 टैंकर तैनात किए थे. जून 2023 में टैंकरों की संख्या 1203 थी.

Latest and Breaking News on NDTV

हालांकि, जनवरी 2024 में इसकी संख्या घटाकर 888 कर दी गई. ऐसा करने के लिए बतौर मंत्री मुझसे परमिशन नहीं ली गई.

Latest and Breaking News on NDTV

इसके बाद दिल्ली के एलजी वीके सक्सेना ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से पानी की चोरी रोकने के लिए मुनक नहर पर कड़ी निगरानी रखने को कहा है. किसी ने भी अगर पानी की चोरी करने की कोशिश की, तो उसे गिरफ्तार करने का निर्देश है. एलजी ने एक हफ्ते में स्टेटस रिपोर्ट भी मांगी है.

Latest and Breaking News on NDTV


आपको बता दें कि दिल्ली को प्रति दिन 1,300 मिलियन गैलन या MGD की जरूरत है. इसमें से दिल्ली जल बोर्ड सिर्फ अनुमानित 1000 MGD ही मुहैया करा पाता है. पानी की किल्लत को देखते हुए पूरे दिल्ली में बोरवेल खुदवाने पर बैन लगा है. लेकिन बवाना में 16000 से ज्यादा ऐसे प्लॉट्स हैं, जहां 1000 से 1200 यूनिट्स में बोरवेल हैं.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
कमला के आने से क्या ट्रंप की राह आसान होगी? 5 पॉइन्ट्स में समझिए पूरा मामला
पानी पर पहरा: 8 तस्वीरों में समझिए, बूंद-बूंद के लिए तरसती दिल्ली की सियासी कहानी
आटे-दाल की तरह अब शराब की भी होगी होम डिलीवरी, Swiggy-Zomato ने इन राज्यों में शुरू की तैयारी
Next Article
आटे-दाल की तरह अब शराब की भी होगी होम डिलीवरी, Swiggy-Zomato ने इन राज्यों में शुरू की तैयारी
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;