बिहार सरकार ने उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को दी 'जेड प्लस' सुरक्षा, सुशील मोदी बोले- 'मुझे तो नहीं मिली थी'

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि 'जेड प्लस' सुरक्षा में एक पायलट, एक एस्कॉर्ट, नजदीकी सुरक्षा टीम, हाउस गार्ड, स्पॉटर और तलाशी लेने वाले कर्मचारी शामिल हैं.

बिहार सरकार ने उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को दी 'जेड प्लस' सुरक्षा, सुशील मोदी बोले- 'मुझे तो नहीं मिली थी'

तेजस्वी यादव को 'जेड प्लस' सुरक्षा दी गई.

पटना:

बिहार सरकार ने उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को 'जेड प्लस' सुरक्षा देने का फैसला किया है. एक अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि इस आशय का एक परिपत्र गुरुवार को जारी किया गया था और बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस (बीएसएपी) के कमांडो राजद नेता की सुरक्षा में शामिल होंगे.

परिपत्र में कहा गया है कि तेजस्वी यादव को 'जेड प्लस' सुरक्षा प्रदान करने का निर्णय राज्य सुरक्षा समिति द्वारा लिया गया है. यह परिपत्र पुलिस महानिदेशक को भेजा गया है. यादव को बुलेटप्रूफ कार भी मुहैया कराई गई है.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि 'जेड प्लस' सुरक्षा में एक पायलट, एक एस्कॉर्ट, नजदीकी सुरक्षा टीम, हाउस गार्ड, स्पॉटर और तलाशी लेने वाले कर्मचारी शामिल हैं.

राज्यपाल फागू चौहान और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी 'जेड प्लस' सुरक्षा प्रदान की गई है.

तेजस्वी यादव को 'जेड प्लस' सुरक्षा दिए जाने के राज्य सरकार के फैसले पर भाजपा के राज्यसभा सांसद और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने ट्वीट किया, 'बिहार में 12 साल तक उपमुख्यमंत्री रहा, लेकिन सरकार को न मुझे बुलेट प्रूफ गाड़ी देने की जरूरत महसूस हुई, न जेड-प्लस सुरक्षा की. मामूली सुरक्षा के बीच मैंने 1, पोलो रोड के सरकारी आवास से लंबे समय तक जनता की सेवा की.'

सुशील मोदी ने कटाक्ष करते हुए कहा, 'जिनका राजपाट आते ही जनता सहम जाती है, भला उनको किससे इतना खतरा है कि सुरक्षा बढ़ायी जा रही है ?'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को पत्रकारों से बातचीत में तेजस्वी यादव को जेड प्लस सुरक्षा प्रदान किये जाने का बचाव किया. उन्होंने कहा, 'मुझे इसका विरोध क्यों करना चाहिए. वह उपमुख्यमंत्री हैं.'