'BJP में शामिल होने से पहले भगवान से ली थी अनुमति': NDTV से बोले गोवा के पूर्व CM दिगंबर कामत

गोवा चुनाव से कुछ दिन पहले ही फरवरी में कांग्रेस उम्मीदवारों ने राहुल गांधी की उपस्थिति में वफादारी का संकल्प लिया था. लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री दिगंबर कामत समेत कांग्रेस के आठ विधायक भाजपा में शामिल हो गए.

पणजी:

गोवा में कांग्रेस के आठ विधायकों ने बुधवार को बीजेपी ज्वाइन कर लिया. दलबदल करने वाले गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री दिगंबर कामत ने इसके बाद एनडीटीवी से बात की. कामत ने कहा कि उन्होंने और बाकी विधायकों ने बीजेपी में शामिल होने से पहले भगवान से अनुमति ली और 'भगवान मान गए.'

दिगंबर कामत ने एनडीटीवी से कहा कि कांग्रेस में कोई लीडरशिप नहीं बची है. 'भारत जोड़ो' का मतलब ही नहीं है, क्योंकि कांग्रेस है ही नहीं. उन्होंने कहा कि मुझसे बिना पूछे मुझे LOP के पद से हटा दिया गया. मुझे दिल्ली में बुलाकर एक बार भी बात नहीं की गई.

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने पार्टी नहीं छोड़ने की शपथ ली थी. मैंने महालक्ष्मी मंदिर में भगवान की शपथ ली थी कि कांग्रेस नहीं छोड़ूंगा. फिर मैंने भगवान से बात की. उन्होंने कहा कि यहां पूरी प्रक्रिया है, शिवलिंग पर पंडित जी भगवान पर फूल चढ़ाकर पूछते हैं. मुझे भगवान ने इशारा किया कि मैं बीजेपी में जाऊं.

उन्होंने कहा कि मुझसे ज़्यादा पूरे गोवा में भगवान को कोई नहीं मानता. मुझे कुछ बनाना है या नहीं, ये निर्णय मैंने पार्टी पर छोड़ दिया है. मैं यहां का सबसे सीनियर विधायक हूं. वहीं कामत ने कहा कि आम आदमी पार्टी तो कुछ भी कहती रहती है.

बता दें कि गोवा चुनाव से कुछ दिन पहले ही फरवरी में कांग्रेस उम्मीदवारों ने राहुल गांधी की उपस्थिति में वफादारी का संकल्प लिया था. लेकिन गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री दिगंबर कामत समेत कांग्रेस के आठ विधायक बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गए.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इसके साथ ही 40 सदस्यीय गोवा विधानसभा में कांग्रेस के सदस्यों की संख्या 11 से घटकर 3 रह गई है. भाजपा ने इस साल मार्च में हुए विधानसभा चुनाव में जीत हासिल कर अपनी सत्ता बरकरार रखी थी. भाजपा के 20 विधायक जीते थे, अब कांग्रेस विधायकों को शामिल करने के बाद उनकी संख्या 28 हो गई है.