महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे बोले- लॉकडाउन में छूट देने का नहीं उठा सकते जोखिम, लेकिन ग्रीन जोन में...

महाराष्ट्र सरकार ने भी लॉकडाउन के चौथे चरण को लेकर (Lockdown-4) दिशा-निर्देश जारी किए. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इसे लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस की.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे बोले- लॉकडाउन में छूट देने का नहीं उठा सकते जोखिम, लेकिन ग्रीन जोन में...

कोरोनावायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित है महाराष्ट्र.

नई दिल्ली:

कोरोनावायरस (Coronavirus) का प्रसार रोकने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) को बढ़ाकर 31 मई तक कर दिया गया है. लॉकडाउन बढ़ाए जाने के बाद गृह मंत्रालय ने इसे लेकर नए दिशा-निर्देश जारी किए. इसके साथ-साथ केंद्र सरकार ने राज्यों को रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन खुद निर्धारित करने की भी छूट दे दी. केंद्र की तरफ से गाइडलाइंस जारी होने के बाद सोमवार देर शाम महाराष्ट्र सरकार ने भी लॉकडाउन के चौथे चरण को लेकर (Lockdown-4) दिशा-निर्देश जारी किए. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इसे लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस की. प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उद्धव ठाकरे ने कहा कि लॉकडाउन में छूट देने का जोख‍िम हम नहीं उठा सकते लेकिन ग्रीन जोन में ज्यादा राहत दी जाएगी.

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि कोरोनावायरस के बढ़ते मामले को देखते हुए राज्य में लॉकडाउन में छूट देना असंभव है. हालांकि ग्रीन जोन में पहले से अधिक रियायत दी जाएगी. ग्रीन जोन में भी याथस्थ‍िति बनाए रखना चुनौती है, फिर भी हमारी सरकार ने 50,000 उद्योगों को खोलने की इजाजत दे दी है. उन्होंने कहा कि हम धीरे-धीरे हम ग्रीन जोन में रियायत देना शुरू कर रहे हैं.


मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के कारण हम कोरोनावायरस के मामले को कंट्रोल करने में कामयाब रहे हैं, लेकिन इसकी चेन को तोड़ने की अभी भी हम कोशिश कर रहे हैं. मालूम हो कि महाराष्ट्र कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य है. यहां कोरोनावायरस से 33 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं वहीं, अकेले मुंबई में इसके 20 हजार से ज्यादा मामले हैं. इसके अलावा पुणे, ठाणे, नवी मुंबई और औरंगाबाद सबसे ज्यादा प्रभावित इलाके हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि भारत में Covid-19 संक्रमितों का कुल आंकड़ा 96,000 के पार पहुंच गया है. स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) के आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोनावायरस से अब तक 3029 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि संक्रमितों की संख्या 96,169 हो गई है. वहीं, पिछले 24 घंटों में कोरोना के 5242 नए मरीज मिले हैं और 157 लोगों की जान गई है. 24 घंटों में कोरोना के मामले में यह अब तक का सबसे बड़ा उछाल है. हालांकि, राहत की बात यह है कि 36,824 मरीज कोरोना को मात देने में कामयाब हुए हैं. रिकवरी रेट सुधर कर 38.29  प्रतिशत पर पहुंच गया है.