मिथुन चक्रवर्ती ने क्यों कहा- मुझे बीजेपी नेता मत कहिए

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव शुरू होने से कुछ सप्ताह पहले मिथुन चक्रवर्ती कोलकाता में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में बीजेपी में शामिल हो गए

मिथुन चक्रवर्ती ने क्यों कहा- मुझे बीजेपी नेता मत कहिए

फिल्म अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती बीजेपी में शामिल हो गए हैं.

कोलकाता:

West Bengal Assembly Elections 2021: रविवार को बीजेपी (BJP) में शामिल हुए एक्टर मिथुन चक्रवर्ती (Mithun Chakraborty) ने कहा कि वे "नेता" का पद नहीं ले रहे हैं. वे यह नहीं बताते कि क्या वे मुख्यमंत्री बनेंगे, लेकिन वे वादा कर सकते हैं कि अगर पार्टी पश्चिम बंगाल में सत्ता में आती है, तो सब कुछ छह महीने में नए सिरे को शुरू किया जाएगा. ” उन्होंने कहा कि "मैं एक नेता नहीं हूं, मुझे भाजपा नेता मत कहिए. मुझ में नेता होने के गुण नहीं हैं. मैं केवल यह कहता हूं कि मेरे पास एक नेता हैं, मैंने उनसे बात की है." उन्होंने एनडीटीवी से प्रधानमंत्री का जिक्र करते हुए यह बात कही. 

पीएम नरेंद्र मोदी की कोलकाता में हुई रैली में 70 वर्षीय मिथुन बीजेपी में शामिल हुए. उनके बीजेपी में शामिल होने की अटकलें काफी दिनों से लगाई जा रही थीं.  मिथुन चक्रवर्ती ने कहा कि "प्रधानमंत्री मेरे साथ बहुत खुले हुए थे. वे 15 मिनट तक मेरे साथ थे. उन्होंने मुझसे कहा, 'यह सरकार सबकी सरकार होगी. इसका मतलब है कि वे हम सबको एक ही तरीके से देख रहे हैं."


बीजेपी के सत्ता में आने पर अपनी भूमिका के बारे में अनुमान लगाने से इनकार करते हुए उन्होंने कहा, "मैं निश्चित रूप से अब चुनाव प्रचार कर रहा हूं. प्रधानमंत्री ने मुझे 12 तारीख से शुरू करने के लिए कहा. प्रतीक्षा करें और देखें. मैं प्रोटोकॉल से चलने वाला व्यक्ति हूं. मुझे नेता मिले हैं, हमें उनका सम्मान करना चाहिए.”

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बंगाल राज्य के बारे में उनके विचारों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, "यह अब गड़बड़ है. बंगाल हर किसी के लिए एक उदाहरण था. मुझे लगता है कि आज ऐसा नहीं है. कहीं न कहीं हम परेशान हो गए हैं. और हमें एक साथ देखना होगा कि हमें वे चीजें वापस मिल जाएं. इसके लिए हमें एक बदलाव की जरूरत है, एक वास्तविक बदलाव, लोगों के लिए बदलाव."