"बहुत अच्छा, राहुल": बीजेपी ने पंजाब के लिए कांग्रेस की पसंद पर हंसी उड़ाई

चरणजीत सिंह चन्नी का #MeToo मामला : साल 2018 में लगा था आरोप, पंजाब महिला आयोग ने मामले का स्वत: संज्ञान लिया था और सरकार से उसका रुख जाना था

चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब के अगले मुख्यमंत्री बनाए जाएंगे.

नई दिल्ली:

बीजेपी ने आज पंजाब के मुख्यमंत्री पद के लिए चरणजीत सिंह चन्नी को लेकर कांग्रेस पर कटाक्ष किया. बीजेपी ने कथित आरोपों का हवाला दिया कि उन्होंने 2018 में एक आईएएस अधिकारी को अनुचित बातें लिखकर भेजी थीं. बीजेपी नेता अमित मालवीय, जो कि पार्टी के आईटी विभाग के प्रमुख हैं, ने ट्वीट किया, "कांग्रेस को सीएम पद के लिए चरणजीत चन्नी का चेहरा मिला, जिनको तीन साल पहले मीटू मामले (MeToo case) में कार्रवाई का सामना करना पड़ा था. उन्होंने 2018 में एक महिला आईएएस अधिकारी को कथित तौर पर अनुचित बातें लिखकर भेजी थीं. इसे मामले को छुपाया गया था. लेकिन यह मामला तब सामने आया जब पंजाब महिला आयोग ने नोटिस भेजा. बहुत अच्छा, राहुल."

यह मुद्दा इस साल मई में फिर से उठा जब पंजाब महिला पैनल प्रमुख ने चन्नी द्वारा कथित रूप से भेजे गए "अनुचित पाठ" संदेश पर अपने रुख के एक सप्ताह के भीतर राज्य सरकार को अवगत कराने में विफल रहने पर भूख हड़ताल पर जाने की धमकी दी. चन्नी अमरिंदर सिंह सरकार में मंत्री हैं.

पंजाब महिला आयोग की अध्यक्ष मनीषा गुलाटी ने कहा था कि उन्होंने मुख्य सचिव को पत्र लिखकर सरकार से की गई कार्रवाई की रिपोर्ट मांगी है.

अमित मालवीय ने इस साल मई में रिपोर्ट की गई एक स्टोरी भी पोस्ट की जिसमें कहा गया था कि निवर्तमान मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के पार्टी के भीतर के प्रतिद्वंद्वी पुराने मामलों को लेकर उनके पीछे पड़े हैं.


साल 2018 के आरोप के बाद पंजाब महिला आयोग ने मामले का स्वत: संज्ञान लिया था और सरकार से उसका रुख पूछा था. उस समय पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने चन्नी से महिला अधिकारी से माफी मांगने के लिए कहा था और कहा था कि उनका मानना ​​है कि मामला उनकी संतुष्टि के लिए "हल" हो गया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


चन्नी को रविवार को पंजाब में कांग्रेस विधायक दल का नेता चुना गया है और वे अगले मुख्यमंत्री होंगे. वे  अमरिंदर सिंह की जगह लेंगे जिन्होंने पंजाब कांग्रेस में चले भारी सत्ता संघर्ष के बाद शनिवार को इस्तीफा दे दिया था.