भारत ने भेजी कोरोना वैक्सीन तो डोमिनिका के प्रधानमंत्री ने कहा- हमें उम्मीद ही नहीं थी कि इतनी जल्दी...

भारत बीते कुछ दिन में अपने यहां बने कोविड-19 टीकों की खेप भूटान, मालदीव, नेपाल, बांग्लादेश, म्यामांर, मॉरीशस और सेशेल्स को मदद के रूप में भेज चुका है.

भारत ने भेजी कोरोना वैक्सीन तो डोमिनिका के प्रधानमंत्री ने कहा- हमें उम्मीद ही नहीं थी कि इतनी जल्दी...

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

कोरोनावायरस (Coronavirus) से भारत में अब तक 1,55,252 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि भारत में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 (Covid-19) के 11,067 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 1,08,58,371 हो गए. लेकिन हाल के दिनों में कोरोना संक्रमण के रफ्तार में कमी जरूर देखने को मिल रही है. इधर भारत में टीकाकरण का कार्य भी तेजी से चल रहा है. भारत सरकार देश के साथ-साथ अपने मित्र राष्ट्रों को भी वैक्सीन उपलब्ध करवाया है. 


भारत सरकार के इस कदम की काफी सराहना की जा रही है. दुनिया के कई ऐसे देश हैं जो कोरोना से जूझ रहे हैं लेकिन उनके पास अभी वैक्सीन की व्यवस्था नहीं हुई है. ऐसे ही एक देश डोमिनिका जिसकी आबादी सिर्फ 72 हजार है को भारत सरकार ने वैक्सीन मदद के रूप में दिया है.  वैक्सीन मिलने पर वहां के प्रधानमंत्री ने पीएम नरेंद्र मोदी का आभार जताया है. उन्होंने कहा है कि उन्हें उम्मीद ही नहीं थी कि इतनी जल्दी भारत वैक्सीन भेज देगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


 गौरतलब है कि हाल ही में अनेक देशों को COVID-19 के टीके भेंट करने वाले भारत (India) की प्रशंसा करते हुए अमेरिका (America) ने उसे ‘‘सच्चा मित्र'' बताया था और कहा था कि वह वैश्विक समुदाय की मदद करने के लिए अपने दवा क्षेत्र का उपयोग कर रहा है. भारत बीते कुछ दिन में अपने यहां बने कोविड-19 टीकों की खेप भूटान, मालदीव, नेपाल, बांग्लादेश, म्यामांर, मॉरीशस और सेशेल्स को मदद के रूप में भेज चुका है. सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील और मोरक्को को ये टीके व्यावसायिक आपूर्ति के रूप में भेजे जा रहे हैं.