यूपी: कासगंज में सिपाही हत्याकांड का मुख्य आरोपी मोती पुलिस एनकाउंटर में ढेर, 1 लाख का था इनाम

रविवार को तड़के कासगंज पुलिस और मोती बदमाश के बीच काली नदी के पास मुठभेड़ हुई जिसमें मोती सीने में गोली लगने से गम्भीर रूप से घायल हो गया. घायल अवस्था में उसे कासगंज जिला अस्पताल भेजा गया, जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

यूपी: कासगंज में सिपाही हत्याकांड का मुख्य आरोपी मोती पुलिस एनकाउंटर में ढेर, 1 लाख का था इनाम

कासगंज सिपाही हत्याकांड के मुख्य मोती बदमाश को पुलिस ने एनकाउंटर में ढेर कर दिया है. (फाइल फोटो)

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश के कासगंज (Kasganj) के सिढ़पुरा थाना क्षेत्र के गांव नगला धीमर में 9 फ़रवरी को शराब माफिया मोती और उसके सहयोगियों द्वारा पुलिस पर हमला किया गया था जिसमें सिपाही देवेंद्र शहीद हो गए थे और एक अशोक नाम के दारोगा गम्भीर रूप से घायल हुए थे. उस जघन्य हत्याकांड का मुख्य आरोपी और 1 लाख का इनामी मोती बदमाश को पुलिस ने आज एनकाउंटर में ढेर कर दिया है.

रविवार को तड़के कासगंज पुलिस और मोती बदमाश के बीच काली नदी के पास मुठभेड़ हुई जिसमें मोती सीने में गोली लगने से गम्भीर रूप से घायल हो गया. घायल अवस्था में उसे कासगंज जिला अस्पताल भेजा गया, जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. सिपाही हत्याकांड के समय गायब हुई दारोगा अशोक की सरकारी पिस्टल भी मृत बदमाश मोती के पास से बरामद हुई है.

कासगंज कांड का एक आरोपी पुलिस एनकाउंटर में ढेर, मुख्य आरोपी अब अभी फरार


इससे पहले सिपाही हत्याकांड में शामिल बदमाश मोती का भाई एलकार भी 9 फरवरी की रात्रि में ही पुलिस मुठभेड़ में मारा जा चुका है. मोती हिस्ट्रीशीटर और शराब माफिया था. उस पर एक दर्जन से भी ज्यादा मुकदमे दर्ज थे. बीते 9 फरवरी को मोती ने अपने साथियों संग मिलकर पुलिस टीम पर धावा बोला था जिसमें सिपाही देवेंद्र शहीद हो गए थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कासगंज की घटना पर 'आप' हमलावर, संजय सिंह बोले-यूपी संभल नहीं रहा तो इस्‍तीफा दे दें CM योगी