EXCLUSIVE : पंजाब में बनाए जाएंगे दो डिप्टी CM, सिद्धू की सहमति से तय हुआ चन्नी का नाम - हरीश रावत

कौन दो उप-मुख्यमंत्री होंगे, यह अभी तय किया गया. पहले कल 11 बजे मुख्यमंत्री शपथ लेंगे फिर कैबिनेट मंत्री तय होंगे.

EXCLUSIVE : पंजाब में बनाए जाएंगे दो डिप्टी CM, सिद्धू की सहमति से तय हुआ चन्नी का नाम - हरीश रावत

पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत.

नई दिल्ली:

कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) को पंजाब (Punjab) का नया मुख्यमंत्री (Chief Minister) बनाया गया है. इसके साथ ही वहां पर दो डिप्टी सीएम भी बनाए जाएंगे. पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत (Harish Rawat) ने NDTV से बात करते हुए इसकी पुष्टि की. उन्होंने बताया कि पार्टी में राय बनी है कि दो डिप्टी सीएम भी बनाए जाएंगे. कौन दो उप-मुख्यमंत्री होंगे, यह अभी तय किया गया. पहले सोमवार को सुबह 11 बजे मुख्यमंत्री शपथ लेंगे फिर कैबिनेट मंत्री तय होंगे.

साथ ही हरीश रावत ने बताया कि चरणजीत सिंह चन्नी के नाम पर सब सहमत हैं. चरणजीत सिंह चन्नी का नाम नवजोत सिंह सिद्धू की सहमति के साथ तय किया गया. इसके अलावा उन्होंने कहा कि मैं अमरिंदर सिंह से मिलने जाऊंगा , कैप्टन अमरिंदर पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं, उनको साथ लेकर चलेंगे. 

रावत ने साथ ही बताया कि सुखजिंदर रंधावा का नाम कहीं फाइनल नहीं था, मीडिया ने उनका नाम चलाया.

इससे पहले पंजाब में "अपमानित" अमरिंदर सिंह के कल मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा (Amarinder Singh Resigns) देने के बाद पंजाब में हालात को काबू में लाने के लिए कांग्रेस संघर्ष करती रही. कांग्रेस की ओर से अमरिंदर सिंह की जगह नए मुख्यमंत्री के अलावा दो डिप्टी सीएम भी बनाए जाने की संभावना पहले ही जताई जा रही थी. हालांकि सूत्रों ने कहा था कि डिप्टी के नाम इस बात पर निर्भर करेंगे कि शीर्ष पद के लिए किसे मंजूरी मिलती है.

चरणजीत सिंह चन्नी को अगला मुख्यमंत्री बनाए जाने का निर्णय कांग्रेस विधायक दल की बैठक में लिया गया. बैठक को लेकर दोपहर बाद से हलचल तेज हो गई थी. जेडब्लू मेरियट में चरणजीत सिंह चन्नी और परगट सिंह समेत कांग्रेस के विधायक और नेता दोपहर पश्चात पहुंच गए थे. वहां हरीश रावत और अजय माकन पहले से मौजूद थे. 

सूत्रों के मुताबिक बैठक में सुखजिंदर रंधावा के नाम को लेकर आम राय बनाने की कवायद की जा रही थी. लेकिन कुछ विधायक रंधावा का विरोध कर रहे थे. इसी बीच सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस विधायक दल की मुख्यमंत्री के चुनाव को लेकर बैठक टाल दी गई है, लेकिन कुछ ही देर पश्चात बैठक में लिया गया फैसला सामने आ गया और चरणजीत चन्नी को पंजाब कांग्रेस विधायक दल का नेता और राज्य का अगला मुख्यमंत्री चुन लिया गया. बताया जाता है कि रंधावा के नाम पर कुछ विधायक सहमत नहीं थे और कांग्रेस आलाकमान ऐसा नेता चाहता था जिसको पार्टी में अधिकतम आंतरिक समर्थन हासिल हो. जब रंधावा के नाम पर पूर्ण सहमति नहीं बनी तो पार्टी हाईकमान ने चन्नी का नाम आगे बढ़ा दिया.    


चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाए जाने का फैसला होने के बाद, इस पद के प्रबल दावेदार माने जा रहे सुखजिंदर रंधावा ने कहा कि वे पार्टी हाईकमान के फैसले को लेकर खुश हैं. उन्होंने कहा कि मैं सभी विधायकों का आभारी हूं, जिन्होंने मेरा समर्थन किया. चन्नी मेरे भाई हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उधर, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अमरिंदर सिंह (Amrinder Singh) ने भी पार्टी विधायक दल का नया नेता चुने जाने पर चरणजीत सिंह चन्नी  को बधाई दी और उम्मीद जताई कि वह पंजाब की सीमा और लोगों की सुरक्षा करने में समर्थ हैं. अमरिंदर सिंह के मीडिया सलाहकार के मुताबिक, अमरिंदर सिंह ने कहा, ‘‘चरणजीत सिंह चन्नी को मेरी शुभकामनाएं.. मैं आशा करता हूं कि वह पंजाब की सीमा को सुरक्षित रखने और सीमा पार से बढ़ते सुरक्षा खतरे से हमारे लोगों की रक्षा करने में समर्थ हैं.''