बीजेपी सांसद ने एक्टिविस्ट दिशा रवि की तुलना आतंकी बुरहान वानी और अजमल कसाब से की

दिशा रवि को दिल्ली की एक कोर्ट ने रविवार को पांच दिनों की पुलिस कस्टडी में रिमांड पर भेजा था. दिल्ली पुलिस ने दिशा को 'टूलकिट' मामले में बेंगलुरु से गिरफ्तार किया था.

बीजेपी सांसद ने एक्टिविस्ट दिशा रवि की तुलना आतंकी बुरहान वानी और अजमल कसाब से की

दिशा रवि की गिरफ्तारी पर कई विपक्षी पार्टियों ने निंदा की है.

नई दिल्ली:

Toolkit Case : तीन बार के भाजपा सांसद पीसी मोहन ने टूलकिट मामले में गिरफ्तार क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि (Disha Ravi) की तुलना आतंकी अजमल कसाब और बुहरान वानी से की है. बेंगलुरु सेंट्रल से सांसद ने रविवार को ट्वीट करते हुए कहा 'उम्र केवल एक संख्या भर है. कोई भी कानून से ऊपर नहीं है. अपराध अपराध ही होता है.'

उन्होंने ट्वीट किया, 'बुरहान वानी 21 साल के थे. अजमल कसाब 21 साल के थे. उम्र केवल एक संख्या भर है. कोई भी कानून से ऊपर नहीं है. कानून अपना काम करेगा. अपराध, अपराध ही होता है. #DishaRavi'

हिज्बुल कमांडर बुरहान वानी (Burhan Wani) को सुरक्षा बलों ने जुलाई 2016 में कश्मीर में मार गिराया था. वह कश्मीर में सुरक्षा बलों के खिलाफ हमले करने का जिम्मेदार था. अजमल कसाब साल 2008 में मुंबई आतंकी हमलों के जिम्मेदार आतंकियों में से एक था. कसाब को पकड़ लिया गया था और उसे फांसी की सजा सुनाई गई थी. 11 नवंबर 2012 में उसे फांसी पर लटका दिया गया था.

जब भारत दुनिया के लिए बना रहा था PPE किट तो कुछ लोग बना रहे थे TOOLKIT: गजेंद्र शेखावत

दिशा रवि को दिल्ली की एक कोर्ट ने रविवार को पांच दिनों की पुलिस कस्टडी में रिमांड पर भेजा था. दिल्ली पुलिस ने दिशा को 'टूलकिट' मामले में बेंगलुरु से गिरफ्तार किया था. दिशा की गिरफ्तारी का एनसीपी, आम आदमी पार्टी, शिवसेना और कांग्रेस के नेताओं ने निंदा की थी. 

एनसीपी की लोकसभा सांसद सुप्रिया सुले ने कहा था, 'बोलने और अभिव्यक्ति की आजादी एक खुशहाल लोकतंत्र के संकेत हैं. हम मुद्दों पर असहमत हो सकते हैं लेकिन असंतोष के स्वर को शांत करना निश्चित रूप से स्वीकार्य नहीं है. दिल्ली पुलिस द्वारा एक्टिविस्ट दिशा रवि की गिरफ्तारी की कड़ी निंदा करते हैं. असंतोष के स्वर उठाने वालों को गिरफ्तार करना और उस पर नियंत्रण करना कुछ और नहीं, बल्कि लोकतंत्र पर हमला है. #DishaRavi'

'वह सॉफ्ट टारगेट हैं, सरकार युवाओं की सुनें' : एक्टिविस्ट दिशा रवि के दोस्त

आम आदमी पार्टी नेता और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए कहा था, '21 साल की दिशा रवि को गिरफ्तार करना लोकतंत्र पर अभूतपूर्व हमला है. हमारे किसानों का समर्थन करना अपराध नहीं हैं.'

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने दिशा की गिरफ्तारी से जुड़ी खबर साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘‘बोल कि लब आज़ाद हैं तेरे, बोल कि सच ज़िंदा है अब तक! वो डरे हैं, देश नहीं!' उन्होंने कहा, ‘भारत खाामोश नहीं होने वाला है.' पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने भी इसी मामले को लेकर सरकार पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया, ‘डरते हैं बंदूकों वाले एक निहत्थी लड़की से, फैले हैं हिम्मत के उजाले एक निहत्थी लड़की से.'

राष्ट्रीय जनता दल के नेता मनोज झा ने कहा, ‘‘मुझे लोकतंत्र को लेकर चिंता हो रही है क्योंकि यह बहुत ही मुश्किल दौर से गुजर रहा है.' 

रवीश का ब्लॉग : क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि की गिरफ्तारी पर उठे बड़े सवाल

पूर्व गृह मंत्री चिदंबरम ने कटाक्ष करते हुए ट्वीट किया, ‘यदि माउंट कार्मेल कॉलेज की छात्रा और जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि देश के लिए खतरा बन गई है, तो भारत की शासन व्यवस्था बहुत ही कमजोर बुनियाद पर खड़ी है. चीनी सैनिकों द्वारा भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ की तुलना में किसानों के विरोध का समर्थन करने के लिए लाया गया एक टूक किट अधिक खतरनाक है!'

बता दें, किसानों के प्रदर्शन से जुड़ी ‘टूलकिट' सोशल मीडिया पर साझा करने में संलिप्तता के आरोप में दिशा रवि को बेंगलुरू से गिरफ्तार किया गया था. पुलिस ने रविवार को बताया कि दिशा रवि को दिल्ली पुलिस के साइबर प्रकोष्ठ के दल ने शनिवार को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने आरोप लगाया कि भारत के खिलाफ वैमनस्य फैलाने के लिए रवि और अन्य ने खालिस्तान-समर्थक समूह ‘पोएटिक जस्टिस फाउंडेशन' के साथ साठगांठ की. (इनपुट- एजेंसियों से भी)

Video : रवीश कुमार का प्राइम टाइम : 'भारत की छवि खराब करना' एक नए किस्म का आरोप बन गया है


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com