नजदीकी चुनावों को लेकर बजट सत्र की अवधि पर सवाल, प्रमुख दलों की बैठक आज

नजदीकी चुनावों को लेकर बजट सत्र की अवधि पर सवाल, प्रमुख दलों की बैठक आज

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:

संसद का बजट सत्र समय से पहले खत्म किया जाए, बजट सत्र की अवधि घटाई जाए या नहीं ? इस अहम सवाल पर संसदीय कार्यमंत्री वेंकैया नायडू ने गुरुवार को सुबह साढ़े दस बजे अहम राजनीतिक दलों की बैठक बुलाई है।


पांच राज्यों में अप्रैल-मई में चुनाव संभावित
संसदीय कार्यमंत्री ने गुरुवार को सुबह साढ़े दस बजे कई राजनीतिक दलों के नेताओं की एक अहम बैठक बुलाई है। यह बैठक बजट सत्र की अवधि तय करने के लिए सुबह साढ़े ग्यारह बजे होने वाली कैबिनेट की संसदीय मामलों की समिति  की बैठक से ठीक पहले बुलाई गई है। दरअसल अप्रैल-मई के आसपास पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हो सकते हैं। सरकार बजट सत्र की अवधि तय करने से पहले उन दलों की राय लेना चाहती है जो इन चुनावों में सक्रिय भूमिका निभाने वाले हैं।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दलों से विमर्श के बाद सरकार लेगी फैसला
खबर है कि इस बैठक के लिए बीजेपी, कांग्रेस, तृणमूल, वाम दलों के साथ-साथ एआईएडीएमके और डीएमके जैसी पार्टियों के नेताओं को बुलाया गया है। संसदीय कार्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक बजट सत्र 23 फरवरी से शुरू हो सकता है और यह 22 मार्च तक चलेगा। फिलहाल तैयारी पहले की तरह बजट सत्र को दो चरणों में बुलाने की है। अब देखना होगा कि राजनीतिक दलों के साथ बैठक के बाद सरकार आगे क्या फैसला लेती है।