'वर्क फ्रॉम होम' जॉब देने के नाम पर पैसा वसूली करने वाले सिंडिकेट का भंडाफोड़, 4 लोग गिरफ्तार

फर्जी जॉब पोर्टल्स के माध्यम से देश भर में वर्क फ्रॉम होम जॉब देने के नाम पर जबरन वसूली और धोखाधड़ी में शामिल इस गैंग को लेकर काफी शिकायतें मिली थीं.

'वर्क फ्रॉम होम' जॉब देने के नाम पर पैसा वसूली करने वाले सिंडिकेट का भंडाफोड़, 4 लोग गिरफ्तार

जांच के बाद इस मामले में एक महिला समेत 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है (प्रतीकात्मक)

नई दिल्ली:

दिल्ली पुलिस की साइबर क्राइम यूनिट ने इस तरह के जॉब ऑफर करने वाले एक मॉड्यूल का भंडाफोड़ करते हुए दिल्ली और एनसीआर से एक महिला समेत 4 लोगो जो गिरफ्तार किया है. फर्जी जॉब पोर्टल्स के माध्यम से देश भर में वर्क फ्रॉम होम जॉब देने के नाम पर जबरन वसूली और धोखाधड़ी में शामिल इस गैंग को लेकर काफी शिकायतें मिली थीं.पुलिस के मुताबिक दरअसल साइबर क्राइम यूनिट में कुछ शिकायतें आयीं थीं जिसमें आरोप लगाया गया था कि वेबसाइट https://theresumesearch.com, https://www.jobsearchnet.in और https://resumetofill.com लोगों को वर्क फ्रॉम होम का झांसा देकर उनसे धोखाधड़ी कर रही है.

दिल्ली पुलिस के लिए एक और नया आदेश, SHO को दी गईं कई जिम्मेदारियां

आरोपी लोगों को ऐसा टास्क दे रहे थे जिसे पूरा करना लगभग असंभव था. टास्क पूरा नहीं करने पर अदालती मामलों में घसीटने की धमकी देकर यह लोग पैसे की उगाही करते थे. जांच के दौरान, पूरे भारत में इसी तरह की शिकायतों मिलने के के संबंध में राष्ट्रीय साइबर अपराध रिपोर्टिंग पोर्टल (एनसीआरपी) पर जांच की गई तो यह सामने आया  कि 60 से ज्यादा लोगों ने इस तरह की शिकायतें दर्ज कराई हैं. तकनीकी जांच के बाद इस मामले में एक महिला समेत 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. आरोपियों से पूछताछ के दौरान खुलासा हुआ कि गैंग का सदस्य आर कुमार ने कथित तौर पर फर्जी वेबसाइट https://theresumesearch.com, https://www.jobsearchnet.in और https://resumetofill.com बनाई.

महिला के रूप में फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी और फिर गैंग ने ब्लैकमेल करके वसूले लाखों रुपये

उसने लोगों को डेटा एंट्री जॉब के लिए कॉल करना शुरू कर दिया. जिन लोगों ने उससे संपर्क किया उन्हें उसने ऐसा टास्क दिया जिसे वे पूरा ही नहीं कर सकते थे.  इस तरह काम पूरा नहीं होने पर वह लोगों को कोर्ट जाने की धमकी देकर उनसे 'जुर्माना' वसूलते थे. उनका शिकार कुछ लोगों ने शिकायतों में बताया कि वे अदालतों में घसीटने की धमकी देते थे और उगाही करते थे.


कैसे इलाज के नाम पर ठगे जा रहे हैं लाखों ?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com