कटमनी पार्टी से आए लोगों का BJP में रहना मुश्किल : मुकुल रॉय की TMC में वापसी पर दिलीप घोष

दिलीप घोष ने कहा, "वह (मुकुल रॉय) एक अनुभवी राजनेता हैं. उन्होंने जो कुछ भी किया है, एक उचित योजना के साथ किया होगा.

कटमनी पार्टी से आए लोगों का BJP में रहना मुश्किल : मुकुल रॉय की TMC में वापसी पर दिलीप घोष

मुकुल रॉय के टीएमसी में जाने से बीजेपी को नहीं पड़ेगा फर्क : दिलीप घोष (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

भाजपा का दामन छोड़कर तृणमूल कांग्रेस में वापसी करने वाले मुकुल रॉय (Mukul Roy) को लेकर बंगाल बीजेपी के अध्यक्ष दिलीप घोष (Dilip Ghosh) ने शनिवार को निशाना साधा. दिलीप घोष ने कहा कि जो लोग ऐसी पार्टी से आए हैं, जहां "कट मनी" का चलन है उनके लिए बीजेपी में रहना मुश्किल है. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि मुकुल रॉय के जाने से बीजेपी को फर्क नहीं पड़ेगा. घोष ने मुकुल रॉय को 'आया राम,गया राम' बताते हुए कहा कि हमें ऐसे लोगों की ज्यादा परवाह नहीं है.

बंगाल बीजेपी के प्रमुख ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा, "यह जरूरी नहीं है कि जो कोई भी बीजेपी में आएगा वह वहीं रहेगा ही क्योंकि यहां 'तपस्या' करने की जरूरत होती है. ऐसे लोगों का बीजेपी में रहना थोड़ा मुश्किल है जो ऐसी पार्टी (टीएमसी) से आए हैं जहां कट मनी और सिंडिकेट कल्चर हो." उन्होंने कहा कि मुकुल रॉय के जाने से बीजेपी पर असर नहीं पड़ेगा.

दिलीप घोष ने कहा, "वह (मुकुल रॉय) एक अनुभवी राजनेता हैं. उन्होंने जो कुछ भी किया है, एक उचित योजना के साथ किया होगा. उनके जाने से भाजपा किसी भी तरह से प्रभावित नहीं होगी. लोग हजारों की संख्या में पार्टी में शामिल हो रहे हैं, अगर उनमें से कुछ को कोई समस्या है तो वे जा सकते हैं. यह उनकी निजी समस्या है, पार्टी की नहीं."

READ ALSO: पश्चिम बंगाल के नेताओं की तृणमूल कांग्रेस में 'घर वापसी' रोकने में जुटी बीजेपी


घोष ने यह भी कहा कि पार्टी को पुराने कार्यकर्ताओं ने बनाया है, जो पार्टी के लिए प्रतिबद्ध हैं और पार्टी के साथ रहेंगे. उन्होंने कहा, "हमें 'आया राम, गया राम' की ज्यादा परवाह नहीं है. हम अपने पुराने पार्टी कार्यकर्ताओं की परवाह करते हैं."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो: मुकुल रॉय की 'घर वापसी', बीजेपी छोड़कर तृणमूल कांग्रेस में लौटे