प्रधानमंत्री के कमेंट पर बोले संजय राउत: ''PM खुद 'आंदोलनजीवी' रहे हैं, यह देश ही आंदोलन से बना है''

शिवसेना नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री को अपनी बात रखने का अधिकार है लेकिन लोगों को भी अपनी बात रखने की अधिकार है. अटलजी, लालकृष्‍ण आडवाणी, श्यामा प्रसाद मुखर्जी सबने आंदोलन किया है. 

नई दिल्ली:

शिवसेना सांसद संजय़ राउत (Sanjay Raut) ने किसान आंदोलन को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के सोमवार को राज्‍यसभा के संबोधन को लेकर खुलकर प्रतिक्रिया दी है. पीएम के संबोधन सहित विभिन्‍न मुद्दों पर राउत ने NDTV से बात की. पीएम के कुछ लोगों के 'आंदोलनजीवी' होने संबंधी कमेंट पर राउत ने कहा, 'हम सब कुछ हैं. हम बुद्धिजीवी भी हैं, हम आंदोलनजीवी भी हैं. हम कलमजीवी हैं. देश तो ऐसे ही 'जीवों' से बना है. प्रधानमंत्री खुद आंदोलनजीवी रहे हैं. उन्‍होंने हमेशा अयोध्या की यात्रा की. वे श्रीनगर के लालचौक भी गए थे. महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी (BJP) आंदोलन कर रही है तो क्या बीजेपी, पीएम के खिलाफ़ आंदोलन कर रही है. उन्‍होंने कहा कि पीएम ने 'इसे' मज़ाक में लिया है ये ठीक नहीं है. यह देश आंदोलन से ही बना है. शिवसेना नेता ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री को अपनी बात रखने का अधिकार है लेकिन लोगों को भी अपनी बात रखने की अधिकार है. अटलजी, लालकृष्‍ण आडवाणी, श्यामा प्रसाद मुखर्जी सबने आंदोलन किया है. 

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद को सच्चा दोस्त बताकर राज्यसभा में भावुक हो गए PM नरेंद्र मोदी

राउत ने कहा कि देशभक्त और देशद्रोही अब अलग व्याख्या बन गई है. जो बीजेपी विरोधी सरकार है वो कुछ भी करे, देशद्रोह हो जाता है. मुंबई में हमने टीआरपी की जांच की तो बड़े-बड़े लोगों ने जो हमारे किसानों के खिलाफ ट्वीट किए हैं क्या किसी दबाव में किए हैं, इस बारे में सरकार जांच कर रही है. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के इस बयान कि पूर्व सहयोगी शिवसेना के साथ बीजेपी की आधे-आधे समय के लिए सीएम बनाने को लेकर कोई बात नहीं हुई थी, संजय राउत ने कहा कि बाला साहब ठाकरे के कमरे में जो बात हुई है, वो अमित शाह, उद्धव ठाकरे को भी मालूम है.हम चाहते हैं कि बैलेट पेपर से चुनाव हो. शिवसेना के मुखपत्र 'सामना' के तेवरों में बदलाव के बारे में पूछे गए सवाल के बारे में उन्‍होंने कहा कि सामना कभी नहीं बदलेगा. हम तो अपने लोग जो गलती करते हैं उसके खिलाफ़ भी लिखते हैं. इस बारे में महाराष्ट्र में चर्चा हो रही है. कांग्रेस भी हमारे साथ जुड़ी हुई है.


संसद में किसान आंदोलन पर बोले PM मोदी- 'प्रदर्शन खत्म कीजिए, सब मिल-बैठकर बात करेंगे'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


एक अन्‍य सवाल में उन्‍होंने कहा कि शरजील उस्‍मानी पर हम चुप नहीं हैं. हमने कहा है राज्य सरकार को कि उसको अरेस्‍ट करने में को-ऑपरेट करें. हमने शरजील को पकड़ने के लिए योगी सरकार से मदद मांगी है. सरकारी जांच एजेंसियों के मिसयूज का आरोप लगाते हुए उन्‍होंने कहा कि जहां जहां बीजेपी सरकार नहीं बना पा रही है वहां छल-कपट हो रहा है. एजेंसी का गलत इस्तेमाल हो रहा है लेकिन हम डरने वाले नहीं हैं. हमारे इरादे पक्के हैं, हम सरेंडर नहीं होंगे चाहें हमारी जान चली जाए.