पीएमसी बैंक के जमाकर्ताओं को बिना किसी शर्त के जमा पैसे वापस मिलने चाहिए: एनसीयूआई

भारतीय राष्ट्रीय सहकारी संघ ने भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा सेंट्रम फाइनेंशियल सर्विसेज को पीएमसी बैंक का अधिग्रहण करने की सैद्धांतिक रूप से मंजूरी देने का स्वागत किया

पीएमसी बैंक के जमाकर्ताओं को बिना किसी शर्त के जमा पैसे वापस मिलने चाहिए: एनसीयूआई

विरोध प्रदर्शन करते हुए पीएमसी बैंक के जमाकर्ता.

नई दिल्ली:

सहकारी संगठन भारतीय राष्ट्रीय सहकारी संघ (NCUI) ने भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा सेंट्रम फाइनेंशियल सर्विसेज को पीएमसी बैंक का अधिग्रहण करने की सैद्धांतिक रूप से मंजूरी देने का स्वागत किया है. एनसीयूआई ने साथ ही कहा कि सभी जमाकर्ताओं को बिना किसी शर्त के उनके जमा किए गए पैसे वापस मिलने चाहिए.

गौरतलब है कि भारतीय रिजर्व बैंक ने शुक्रवार को सेंट्रम फाइनेंशियल सर्विसेज को एक सूक्ष्म ऋण बैंक शुरू करने की सैद्धांतिक रूप से मंजूरी दे दी. प्रस्तावित सूक्ष्म ऋण बैंक विशेष रूप से पंजाब एंड महाराष्ट्र कोआपरेटिव बैंक (पीएमसी) का अधिग्रहण करने के लिए स्थापित किया जाएगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


एनसीयूआई के अध्यक्ष दिलीप संघानी ने रिजर्व बैंक के फैसले को लेकर कहा, "यह निश्चित रूप से स्वागतयोग्य कदम है. लेकिन यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि सभी जमाकर्ताओं को बिना किसी शर्त के उनके जमा किए गए पैसे वापस मिलें."



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)