PM की सुरक्षा में चूक का मामला : FIR दर्ज, 3 दिनों में रिपोर्ट देगा जांच पैनल, पंजाब सरकार ने केंद्र को बताया

पंजाब के मुख्य सचिव ने केंद्रीय गृह सचिव को बताया कि मामले में पुलिस केस दर्ज किया गया है. मामले की जांच के लिए गठित समिति तीन दिनों में रिपोर्ट सौंपेगी. 

PM की सुरक्षा में चूक का मामला : FIR दर्ज, 3 दिनों में रिपोर्ट देगा जांच पैनल, पंजाब सरकार ने केंद्र को बताया

पंजाब सरकार द्वारा गठित जांच पैनल तीन दिन में देगा रिपोर्ट

नई दिल्ली/चंडीगढ़:

पंजाब दौरे के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक (PM Modi Security Lapse) के मामले में बवाल बढ़ता जा रहा है. पंजाब के मुख्य सचिव ने सुरक्षा में चूक के मामले में केंद्रीय गृह सचिव को लिखित रिपोर्ट सौंपी है. मुख्य सचिव ने केंद्र को बताया कि मामले में गठित पैनल 3 दिन में रिपोर्ट सौंपेगा. वहीं, प्रधानमंत्री मोदी की सुरक्षा में चूक की जांच के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भी तीन सदस्यीय समिति का गठन किया है.

चीफ सेक्रेटरी ने गृह सचिव को बताया कि मामले में पुलिस केस दर्ज किया गया है और राज्य सरकार ने मामले की जांच के लिए एक समिति का गठन किया है. यह समिति तीन दिनों में रिपोर्ट सौंपेगी. 

बुधवार को पंजाब के दौरे पर गए प्रधानमंत्री मोदी की सुरक्षा में उस वक्त ‘‘गंभीर चूक'' की घटना हुई, जब फिरोजपुर में कुछ प्रदर्शनकारियों ने एक सड़क मार्ग को अवरुद्ध कर दिया, जहां से उन्हें गुजरना था. इस वजह से प्रधानमंत्री एक फ्लाईओवर पर करीब 20 मिनट तक फंसे रहे. इसके चलते, प्रधानमंत्री फिरोजपुर की रैली सहित किसी भी कार्यक्रम में शामिल हुए बिना पंजाब से लौट गए थे. 

रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई
पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने मामले की गहराई से जांच के लिए एक समिति गठित की है. सेवानिवृत्त न्यायमूर्ति मेहताब सिंह गिल और प्रधान सचिव, गृह मामले व न्याय, अनुराग वर्मा को तीन दिनों के भीतर रिपोर्ट सौंपने को कहा गया है.  चन्नी ने कहा था कि रिपोर्ट आने के बाद ही दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी.

गृह मंत्रालय ने बनाई 3 सदस्यीय जांच कमेटी
पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक की जांच के लिए गृह मंत्रालय ने 3 सदस्यीय कमेटी बनाई है. तीन सदस्यीय समिति का नेतृत्व मंत्रिमंडल सचिवालय के सचिव (सुरक्षा) सुधीर कुमार सक्सेना करेंगे. कमेटी में इंटेलीजेंस ब्यूरो (IB) के ज्वाइंट डायरेक्टर बलबीर सिंह और विशेष सुरक्षा समूह (SPG) के आईजी एस सुरेश भी शामिल होंगे. कमेटी को जल्द से जल्द रिपोर्ट देने की सलाह दी गई है.

गृह मंत्रालय ने पंजाब से मांगी रिपोर्ट
गृह मंत्रालय ने बुधवार को इस घटना को प्रधानमंत्री की सुरक्षा में ‘‘गंभीर चूक'' करार दिया था. बयान में यह भी कहा गया कि मंत्रालय ने पंजाब सरकार से इस चूक के लिए जवाबदेही तय करने और कड़ी कार्रवाई करने के लिए कहा है. गृह मंत्रालय ने पंजाब सरकार से रिपोर्ट सौंपने को कहा था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो: PM को 140 किमी रोड से ले जाने का फ़ैसला कब और कैसे लिया गया?