पद्मविभूषण पंडित छन्नूलाल मिश्र की बेटी का निधन, परिवार का आरोप-अस्‍पताल में इलाज में लापरवाही हुई

नम्रता ने आरोप लगाया कि इलाज में लापरवाही के चलते ही उनकी बहन की मौत हुई. उन्‍होंने कहा, ‘‘मेरे पिता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रस्तावक रहे हैं और अब वह ही हमें इंसाफ दिलाएं.’’

पद्मविभूषण पंडित छन्नूलाल मिश्र की बेटी का निधन, परिवार का आरोप-अस्‍पताल में इलाज में लापरवाही हुई

'पंडितजी' की छोटी बेटी नम्रता मिश्र ने बड़ी बहन के इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया है

खास बातें

  • उल्‍टी, खांसी की शिकायत पर निजी अस्‍पताल में भर्ती की गई थीं
  • मामले की जांच के लिए टीम का गठन किया गया
  • छोटी बेटी नम्रता ने कहा, 'पीएम ही अब हमें इंसाफ दिलाएं'
वाराणसी :

वैश्विक महामारी कोरोना में निजी चिकित्सालय में लापरवाही का आलम बना हुआ है,उत्तर प्रदेश के कई निजी अस्‍पतालों पर आरोप लग रहे हैं कि लाखों रुपए लेने के बाद भी वह मरीज का सही से इलाज नहीं कर रहे हैं.ताजा मामला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी का है जहां पर पद्म विभूषण पंडित छन्नूलाल मिश्र के परिजनों ने बेटी के मौत पर अस्पताल प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया है.दरअसल पद्मविभूषण पंडित छन्नू लाल मिश्र की पत्नी के बाद बड़ी बेटी संगीता मिश्रा (48) का एक मई को निधन हो गया. मैदागिन स्थित एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान उन्होंने अंतिम सांस ली.

कोविड के खिलाफ लड़ाई में दुनिया भर से मिल रही मदद, लेकिन क्या सही जगह पर पहुंच रही है?


'पंडितजी' की छोटी बेटी नम्रता मिश्र ने बड़ी बहन की मौत पर सवाल खड़ा करते हुए इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया है. साथ ही वह अपनी बहन के इलाज के दौरान के CCTV फुटेज की मांग करते हुए अस्पताल पहुंचीं और जमकर हंगामा काटा. हंगामे को देखते हुए अस्पताल मैनेजमेंट के लोग फरार हो गए. हंगामे की सूचना पर मौके पर पहुंची कोतवाली थाना क्षेत्र की पुलिस टीम उन्हें अपने साथ थाने ले जाकर शिकायत करने की बात कही. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


नम्रता मिश्र ने बताया कि बड़ी बहन को केवल उल्टी व खांसी की शिकायत थी.हालत गंभीर होने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया था.उन्होंने आरोप लगाया कि अस्पताल प्रशासन की लापरवाही से बड़ी बहन की मौत हुई है, वह इसकी शिकायत दर्ज कराएंगी. बेटी के निधन के बाद से पंडित मिश्र की हालत भी खराब हो गई है.