राज ठाकरे का अल्टीमेटम - "3 मई तक मस्जिदों से लाउडस्पीकर नहीं हटे, तो..."

राज ठाकरे ने कहा कि शरद पवार कभी भी अपनी सभा में शिवाजी महाराज का नाम नहीं लेते हैं. वो डरते हैं कि अगर शिवाजी महाराज का नाम लिया तो मुसलमानों का वोट नहीं मिलेगा.

राज ठाकरे का अल्टीमेटम -

Mosque Loudspeakers की तेज आवाज को लेकर राज ठाकरे ने उठाए सवाल

मुंबई:

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे (MNS chief Raj Thackeray) ने मस्जिदों से लाउडस्पीकरहटाने की मांग को लेकर  नया अल्टीमेटम जारी किया है. एमएनएस प्रमुख राज ठाकरे ने आज फिर से मस्जिदों पर लगे लाउडस्पीकर हटाने की मांग दोहराई.ठाणे में आयोजित सभा में मंगलवार को राज ठाकरे ने कहा कि  राज्य सरकार को मैं साफ बताना चाहता हूं मैं इस मुद्दे से पीछे नहीं हटूंगा,  आपको जो करना है करो. राज ठाकरे ने कहा कि ऐसा कौनसा धर्म है जो दूसरे धर्म को तकलीफ देता है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा मस्जिद से लाउड स्पीकर हटने चाहिए तो इन्हें क्यों नहीं दिख रहा  ? वोटों के लिए. ठाकरे ने राज्य सरकार को अल्टीमेटम दिया कि 3 मई तक  अगर मस्जिद से अगर लाउडस्पीकर ( (Mosque Loudspeakers) )नहीं हटेंगे तो देश भर में मस्जिद के सामने हनुमान चालीसा बजेगा. ठाकरे ने ये भी कहा कि 3 मई को ईद है.

हम होम डिपार्टमेंट को कहना चाहते हैं हमे दंगे नहीं चाहिए . 3 मई तक सभी मस्जिदों से  लाउडस्पीकर हटा दें  हमारी तरफ से कोई तकलीफ़ नहीं होगी. राज ठाकरे ने प्रधानमंत्री मोदी से देश मे कॉमन सिविल कोड लागू करने की  मांग की. साथ ही इस देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू होने की जरूरत बताई. ठाणे की सभा में राज ठाकरे शरद पवार पर भी जम कर बरसे. राज ने कहा कि शरद पवार कह रहें है कि मैं अपनी भूमिका बदलता हूं. मैं पूछता हूं वो बताएं कब मैंने अपनी भूमिका बदली?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


राज ठाकरे ने कहा कि शरद पवार कभी भी अपनी सभा में शिवाजी महाराज का नाम नहीं लेते हैं. वो डरते हैं कि अगर शिवाजी महाराज का नाम लिया तो मुसलमानों का वोट नहीं मिलेगा. इसलिए वो शाहू, फुले और आंबेडकर का नाम लेते हैं. राज ठाकरे ने बताया कि पवार नास्तिक हैं. वो धर्म मानते नहीं हैं इसलिए वो जाति की राजनीति करते हैं .