राज्यसभा सदस्यों को ट्रेन का टिकट बुक करने के बाद यात्रा नहीं करना पड़ेगा महंगा, अपनी जेब से चुकाना पड़ेगा किराया

राज्यसभा का कोई सदस्य अब अगर ट्रेन का टिकट बुक करने के बाद यात्रा नहीं करता है तो उसे किराये का भुगतान करना होगा.

राज्यसभा सदस्यों को ट्रेन का टिकट बुक करने के बाद यात्रा नहीं करना पड़ेगा महंगा, अपनी जेब से चुकाना पड़ेगा किराया

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

राज्यसभा का कोई सदस्य अब अगर ट्रेन का टिकट बुक करने के बाद यात्रा नहीं करता है तो उसे किराये का भुगतान करना होगा. राज्यसभा के महासचिव की ओर से सदस्यों को जारी परामर्श में यह जानकारी दी गई है. इसमें स्पष्ट किया गया है कि टिकट बुक कराने के बाद यात्रा नहीं करने के बाद इसे आगे की यात्रा के हिसाब से समायोजित भी नहीं किया जाएगा. 

सदन के महासचिव देश दीपक वर्मा ने सांसदों को भेजे परामर्श में कहा कि वे यात्रा नहीं करने की स्थिति में ट्रेन बुकिंग को कैंसल करें और अगर ऐसा नहीं करते हैं तो किराया उनसे वसूला जाएगा.


परामर्श में कहा गया है कि रेल मंत्रालय ने भुगतान के दावे का जो ब्यौरा दिया है उसके मुताबिक कुछ सदस्यों ने एक ही दिन एक ही अथवा दूसरे स्टेशनों से जाने वाली कई ट्रेनों में टिकट बुक कराए. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


राज्यसभा सचिवालय को उन टिकट का भी भुगतान करना पड़ता है जिसका इस्तेमाल सदस्य ने नहीं किया है. नियमों के मुताबिक, सांसद ट्रेन के प्रथम श्रेणी के डिब्बे में यात्रा कर सकते हैं और इससे नीचे की श्रेणी वाले डिब्बे में अपने साथ किसी को यात्रा करा सकते हैं. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)