सरनेम 'खान' है इसलिए 23 साल के लड़के के पीछे पड़े हैं : आर्यन खान पर महबूबा मुफ्ती का ट्वीट

आर्यन खान मामले पर एनसीपी नेता के आरोपों का खंडन करते हुए केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा था कि एंटी ड्रग्स एजेंसी स्वतंत्र निकाय है और उसकी गतिविधियों से बीजेपी का कोई लेना देना नहीं है. मलिक जानबूझकर भाजपा पर झूठे आरोप लगा रहे हैं. एनसीबी सही ढंग से अपना काम कर रही है.

सरनेम 'खान' है इसलिए 23 साल के लड़के के पीछे पड़े हैं : आर्यन खान पर महबूबा मुफ्ती का ट्वीट

आर्यन खान के समर्थन में महबूबा मुफ्ती ने ट्विटर पर कही ये बात

नई दिल्ली:

क्रूज शिप ड्रग्स पार्टी मामले में शाहरुख खान (ShahRukh Khan) के बेटे आर्यन खान (Aryan Khan) सलाखों के पीछे हैं. आर्यन के सपोर्ट में एनसीपी के बाद अब पीडीपी भी उतर गई है. पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने ट्वीट किया है कि किसानों की हत्या के आरोपी केंद्रीय मंत्री के बेटे पर कार्रवाई करके उदाहरण देने के बजाय केंद्रीय एजेंसियां 23 साल के लड़के के पीछे इसलिए हैं कि क्योंकि उनका सरनेम खान है.न्याय की विडंबना यही है कि बीजेपी के कोर वोट की इच्छाओं को पूरा करने के लिए मुसलमानों को टारगेट किया जा रहा है. बता दें कि एनसीपी के नेता नवाब मलिक ने भी इससे पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस करके आरोप लगाए थे. उन्होंने बीजेपी और एनसीबी की साठगांठ का आरोप लगाया था. एनसीपी नेता के आरोपों का खंडन करते हुए केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा था कि एंटी ड्रग्स एजेंसी स्वतंत्र निकाय है और उसकी गतिविधियों से बीजेपी का कोई लेना देना नहीं है. मलिक जानबूझकर भाजपा पर झूठे आरोप लगा रहे हैं. एनसीबी सही ढंग से अपना काम कर रही है.

नवाब मलिक ने आरोप लगाया था कि नारोकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की मुंबई इकाई के जोनल डायरेक्टर और बीजेपी नेताओं के बीच संबंध हैं. उन्होंने कहा कि हमें लगता है कि समीर वानखेड़े और बीजेपी के नेताओं के बीच कुछ बातचीत हुई है. नवाब मलिक ने ये भी दावा किया था मुंबई तट के क्रूज शिप में छापे के बाद एनसीबी के समीर वानखेड़े ने कहा था कि 8 से 10 लोगों को हिरासत में लिया गया, लेकिन सच ये हैं कि 11 लोगों को हिरासत में लिया गया था. बाद में तीन लोगों ऋषभ सचदेवा, प्रतीक गाबा और आमिर फर्नाचरवाला को छोड़ दिया गया.


वहीं बता दें कि आर्यन खान की जमानत अर्जी पर सेशन कोर्ट बुधवार को सुनवाई करेगा. दरअसल एनसीबी जवाब दाखिल करने के लिए दहशरे के बाद तक का समय मांग रही थी.  इस पर NCB के वकील अद्वैत सेठना ने कहा था कि रिप्लाई फाइल करने में सात दिन लगते हैं. आरोपी नंबर 1 न्यायिक हिरासत में है. उनको बाहर छोड़ना सबूतों को प्रभावित कर सकता है. हम अपना रिप्लाई फ़ाइल करना चाहते हैं, लेकिन हमें कल ही मिला है. हमारी विनती है कि गुरुवार तक का समय दिया जाए. अब इस पर कोर्ट ने एनसीबी 13 अक्टूबर को 11 बजे रिप्लाई फाइल करने के लिए कहा है और इसी दिन दोपहर बाद इस केस में सुनवाई होगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि  गोवा जा रहे क्रूज पर तीन अक्टूबर को की गई छापेमारी के दौरान आर्यन, मुनमुन धमेचा और अरबाज मर्जेंट को एनसीबी ने गिरफ्तार किया था और बाकी पांच अन्य आरोपियों को अगले दिन अरेस्ट किया था. फिलहाल मामले की जांच जारी है.