यह ख़बर 07 अगस्त, 2012 को प्रकाशित हुई थी

आरुषि के तकिये से मिला ‘आंशिक पुरुष डीएनए’

आरुषि के तकिये से मिला ‘आंशिक पुरुष डीएनए’

खास बातें

  • आरुषि-हेमराज दोहरे हत्या मामले में गवाही देते हुए एक फॉरेंसिक विशेषज्ञ ने अदालत को बताया कि आरुषि के कमरे से बरामद तकिये से ‘आंशिक पुरुष डीएनए’ का साक्ष्य मिला है।
गाजियाबाद:

आरुषि-हेमराज दोहरे हत्या मामले में गवाही देते हुए एक फॉरेंसिक विशेषज्ञ ने अदालत को बताया कि आरुषि के कमरे से बरामद तकिये से ‘आंशिक पुरुष डीएनए’ का साक्ष्य मिला है।

केंद्रीय फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला के वरिष्ठ वैज्ञानिक बीपी महापात्रा ने अदालत को बताया कि तकिये पर आंशिक पुरुष डीएनए के अलावा, खून का धब्बा पाया गया है जो आरुषि से मिलता है। उन्होंने कहा कि आरुषि के कमरे की दीवार और दरवाजे से मिले महिला डीएनए और खून के धब्बे आरुषि से मिलते हैं।

सीबीआई ने विशेष सुनवाई अदालत में 13 सबूत पेश किए।

महापात्रा ने अदालत से कहा कि हेमराज के कमरे से बरामद चादर पर खून के धब्बे उसके थे ‘लेकिन डीएनए नहीं बना था।’

सरकारी वकील आरके सैनी ने कहा कि हेमराज की बनियान, टी शर्ट, अंत:वस्त्र और कलाई घड़ी से खून के नमूने मिले हैं लेकिन डीएनए प्रोफाइल नहीं बना है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यह सुनवाई बुधवार को भी जारी रहेगी।