दूसरे देशों में तैयार की जा रही COVID-19 वैक्सीन के भारत में इस्तेमाल पर विदेश मंत्रालय ने कही ये बात 

विदेश मंत्रालय के सहयोग से ये एक्सपर्ट ग्रुप भारतीय कंपनियों को इन वैक्सीन को पाने, जरूरी टेस्टिंग आंकड़े नियामक संस्थाओं तक पहुंचाने का काम करेगा. 

दूसरे देशों में तैयार की जा रही COVID-19 वैक्सीन के भारत में इस्तेमाल पर विदेश मंत्रालय ने कही ये बात 

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामले तेजी से सामने आ रहे हैं. रोजाना करीब 70,000 नए COVID-19 मामले आ रहे हैं. भारत के साथ-साथ दुनिया के सभी बड़े देश COVID-19 वैक्सीन खोजने में लगे हैं. इस बीच, रूस ने कोरोना वैक्सीन विकसित करने का दावा किया है. ऐसे में सवाल उठता है कि क्या दूसरे देशों में तैयार की जा रही वैक्सीन फौरन भारत में इस्तेमाल में आ जाएंगे. विदेश मंत्रालय ने इस बाबत जानकारी दी है. 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि भारत सरकार ने  National Expert Group on Vaccine Administration for COVID-19 बनाया है. इसका मकसद दुनिया में कहीं भी कोविड-19 की वैक्सीन पर चल रहे नए तकनीक, तैयारी, उत्पादन वगैरह के बारे में पूरी जानकारी रखना है. विदेश मंत्रालय के सहयोग से ये एक्सपर्ट ग्रुप भारतीय कंपनियों को इन वैक्सीन को पाने, जरूरी टेस्टिंग आंकड़े नियामक संस्थाओं तक पहुंचाने का काम करेगा. 

उन्होंने कहा कि इसके बाद नियामक संस्थाएं ये तय करेंगी कि और कौन से ट्रायल भारत में उस वैक्सीन के इस्तेमाल के पहले जरूरी हैं. असल में कई देशों में कोविड-19 की वैक्सीन के ट्रायल चल रहे हैं और सवाल उठ रहे हैं कि क्या उनका इस्तेमाल भारत में फौरन होगा. 


गुरुवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में संक्रमण के सर्वाधिक 69,652 नए मामले सामने आए हैं. जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 28,36,925 हो गई है. वहीं इस दौरान 977 लोगों की मौत हुई है. कुल मृतकों की संख्या 53,866 हो गई है. वहीं इस खतरनाक वायरस को मात देकर ठीक होने वालों की संख्या बढ़कर 20,96,664 हो गई है. 

वीडियो: केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत कोरोना से संक्रमित

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com