कोरोना काल में IIM इंदौर के स्‍टूडेंट को मिला 56.8 लाख रुपये का सैलरी पैकेज

तिम प्लेसमेंट के दौरान वेतन का 56.8 लाख रुपये का सबसे ऊंचा प्रस्ताव विदेश में नियुक्ति के लिए मिला. अधिकारी ने बताया कि भारत में नियुक्ति के लिए पगार का सबसे ऊंचा प्रस्ताव 41.5 लाख रुपये का रहा.

कोरोना काल में IIM इंदौर के स्‍टूडेंट को मिला 56.8 लाख रुपये का सैलरी पैकेज

IIM Indore में इस वर्ष पढ़ाई पूरी करने वाले सभी 579 स्‍टूडेंट नौकरी ऑफर पाने में सफल रहे (प्रतीकात्‍मक फोटो)

खास बातें

  • विदेश में नियुक्ति के लिए मिला 56.8 लाख रुपये का ऑफर
  • भारत में नियुक्ति के लिए सबसे बड़ा ऑफर 41.5 लाख रु. का
  • इस बार IIT-I के सभी 579 स्‍टूडेंट नौकरी ऑफर पाने में सफल रहे
इंदौर :

दुनियाभर की अर्थव्यवस्थाओं पर कोविड-19 की मार (Covid-19 Pandemic) के बीच इंदौर के भारतीय प्रबंध संस्थान (IIM Indore) में विद्यार्थियों के अंतिम प्लेसमेंट की प्रक्रिया पूरी हो गई है. इस दौरान सालाना पगार पैकेज का सबसे ऊंचा प्रस्ताव 56.8 लाख रुपये का रहा है.IIM-I के एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी. उन्होंने संबंधित नियोक्ता और विद्यार्थी के नामों का हालांकि खुलासा नहीं किया. लेकिन बताया कि अंतिम प्लेसमेंट के दौरान वेतन का 56.8 लाख रुपये का सबसे ऊंचा प्रस्ताव विदेश में नियुक्ति के लिए मिला. अधिकारी ने बताया कि भारत में नियुक्ति के लिए पगार का सबसे ऊंचा प्रस्ताव 41.5 लाख रुपये का रहा.

IIM इंदौर के इस स्टूडेंट को मिला 63.45 लाख रुपये का पैकेज

उन्होंने बताया कि IIM-इंदौर के विद्यार्थियों को अंतिम प्लेसमेंट के दौरान 210 से ज्यादा नियोक्ताओं से देश में नियुक्ति के लिए औसतन 23.6 लाख रुपये के वेतन प्रस्ताव मिले और यह आंकड़ा पिछले साल के मुकाबले करीब 3% अधिक है. आईआईएम-आई के निदेशक हिमांशु राय ने कहा, "हमारे संस्थान में देश के अन्य आईआईएम की तुलना में सबसे अधिक विद्यार्थी हैं और कोविड-19 संकट के चलते इनका अंतिम प्लेसमेंट चुनौतीपूर्ण था. लेकिन नियोक्ताओं ने हमारे विद्यार्थियों की काबिलियत पर इस साल भी भरोसा बरकरार रखा और इससे हम खुश हैं."


 IIM अहमदाबाद और IIM बैंगलोर ने दुनिया के टॉप 50 मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट्स में बनाई जगह

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आईआईएम-आई से मिली जानकारी के मुताबिक संस्थान में इस वर्ष पढ़ाई पूरी करने वाले सभी 579 विद्यार्थी प्लेसमेंट के दौरान नौकरी के प्रस्ताव पाने में कामयाब रहे. इनमें आईआईएम-आई के दो वर्षीय पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम (पीजीपी) और पांच वर्षीय इंटीग्रेटेड प्रोग्राम इन मैनेजमेंट (आईपीएम) के विद्यार्थी शामिल हैं. अंतिम प्लेसमेंट के दौरान नियोक्ताओं ने आईआईएम-आई के विद्यार्थियों को वित्त क्षेत्र में सर्वाधिक 24 फीसद रोजगार प्रस्ताव दिए. इन्हें बिक्री व मार्केटिंग क्षेत्र में 23 प्रतिशत, परामर्श क्षेत्र में 22 प्रतिशत, सामान्य प्रबंधन तथा परिचालन क्षेत्र में 20 प्रतिशत और सूचना तकनीक व एनालिटिक्स क्षेत्र में 11 प्रतिशत रोजगार प्रस्ताव दिए गए.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)